पाकिस्तान में चीन के वाणिज्य दूतावास के पास आतंकी हमला, 5 मरे

0
220
कराची,  हथियारों से लैस तीन आत्मघाती हमलावरों ने शुक्रवार को पाकिस्तान के सबसे बड़े नगर कराची स्थित चीनी वाणिज्य दूतावास को दहलाते हुए दो पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी। अधिकारियों के अनुसार उच्च सरक्षा वाले क्षेत्र में हुए इस दुस्साहसिक हमले को नाकाम करते हुए सुरक्षा बलों ने तीनों हमलावरों को मार गिराया। सुबह आतंकी हमले की जद में आया वाणिज्य दूतावास पॉश इलाके क्लिफटन में स्थित है। कराची पुलिस प्रमुख आमिर शेख ने बताया कि तीन संदिग्ध आत्मघाती हमलावरों को दूतावास में घुसने से पहले ही मार गिराया गया और सुरक्षा बलों ने हमले को सफलतापूर्वक नाकाम कर दिया। जियो न्यूज ने पुलिस अधिकारियों के हवाले से कहा कि आतंकवादियों के कब्जे से नौ हथगोले, क्लाश्निकोव राइफल की गोलियां, मैगेजीन और विस्फोटक बरामद किए गए। अधिकारियों ने कहा, “उनके पास से खाद्य सामग्री और दवाइयां भी मिली।” जिन्ना अस्पताल के कार्यकारी निदेशक सीमी जमाली ने कहा, “हमे दो पुलिसकर्मियों के शव मिले हैं और एक घायल चीनी सुरक्षा गार्ड को यहां भर्ती कराया गया है जिसका इलाज किया जा रहा है।” सिंध सरकार और इंटर सर्विसेज जनसंचार शाखा (आईएसपीआर) ने अभियान में तीन आतंकवादियों के मारे जाने की पुष्टि की। कड़ी सुरक्षा और रेड जोन माने वाले इस इलाके में बहुत से नामी रेस्त्रां, दूतावास और स्कूल हैं। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के प्रमुख बिलावल भुट्टो जरदारी का बिलावल हाउस भी इसी इलाके में स्थित है। खतरे का पता लगाने तक पास के स्कूलों एवं भोजनालयों को बंद रखा गया। निवासियों ने बताया कि उन्होंने गोलीबारी और विस्फोट की आवाज सुबह करीब साढ़े नौ बजे (स्थानीय समयानुसार) के आस-पास सुनी। शेख ने कहा, “आतंकवादियों ने सबसे पहले दूतावास के बाहर जांच चौकी पर हमला किया और इलाके में एक हथगोले से विस्फोट किया।” शेख ने बताया कि हमलावरों ने दूतावास की ओर जाने से पहले कुछ दूरी पर अपनी गाड़ी पार्क की। रक्षा विश्लेषक और सुरक्षा ठेकेदार इकराम सहगल ने बताया कि हमलावरों ने पहले पुलिसकर्मियों पर गोलियां चलाई। दूतावास में सगहल की कंपनी के गार्डों की ही तैनाती थी। उन्होंने बताया कि पुलिसकर्मियों की मौत के बाद हमलावर दूतावास के दरवाजे की तरफ बढ़े। हालांकि गार्डों ने दूतावास संबंधी कार्यों के लिए आए लोगों को जल्दी से इमारत में प्रवेश कराया और दरवाजे बंद कर दिए। सहगल ने बताया कि दूतावास में चीनी कर्मचारियों को मुख्य इमारत तक ले जाया गया। अर्द्धसैनिक बलों के रेंजर फिर मौके पर पहुंचे और हमलावरों के साथ मुठभेड़ कर तीन को मार गिराया। उन्होंने बताया कि हमलावरों के पास से हथियार और विस्फोटक सामग्रियां बरामद की गईं। शेख ने बताया कि सभी चीनी कर्मचारी “सुरक्षित’’ हैं। उन्होंने बताया कि सुरक्षा स्थिति पर नियंत्रण पा लिया गया है और सभी इलाकों में खतरे की जांच पूरी हो जाएगी। साथ ही उन्होंने बताया कि दूतावास के भीतर पुलिस की एक टीम तैनात की गई है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान घटना के तथ्यों का पता लगाने के लिए संबंधित एजेंसियों से संपर्क में है और जल्द ही इस पर प्रतिक्रिया देगा। शेख ने कहा कि हमले के संबंध में ज्यादा जानकारी वह बाद में दे पाएंगे। सिंध के मुख्यमंत्री मुराद अली शाह ने चीनी महावाणिज्य दूत से संपर्क कर उन्हें आश्वासन दिया कि स्थिति पर नियंत्रण पा लिया जाएगा। सिंध के राज्यपाल इमरान इस्माइल ने पुलिस महानिरीक्षक (सिंध) से हमले के बारे में रिपोर्ट मांगी है।
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here