बीजेपी का बुरा हाल,साधु-संतों का कांग्रेस को समर्थन, कहा जो राम का नहीं, वो किसी काम का नहीं

0
204

मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीच बीजेपी के लिए बुरी खबर है. जबलपुर में शुक्रवार को साधु-संतों की ओर से आयोजित ‘नर्मदा संसद’ में कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान किया गया है. नर्मदा नदी के तट पर ‘नर्मदा संसद’ का आयोजन कंप्यूटर बाबा ने किया, जिन्हें शिवराज सरकार में राज्यमंत्री का दर्जा मिला था. कुछ महीने बाद उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया था. इस संसद में प्रदेश और देश के विभिन्न हिस्सों से बड़ी संख्या में साधु-संत यहां पहुंचे. उन्होंने अपनी बात कही. साथ ही कहा, “जो राम का नहीं वह किसी काम का नहीं.”

Image result for साधु-संतों का कांग्रेस को समर्थनयह भी पढेंजब हमने 17 मिनट में बाबरी मस्जिद तोड़ दी तो कानून बनाने में कितना समय लगेगा? शिवसेना सांसद

कंप्यूटर बाबा ने खुले तौर पर शिवराज सरकार पर कई आरोप लगाए और कहा, “इस सरकार को सबक सिखाने का समय आ गया है, कांग्रेस को पांच साल का मौका देना चाहिए. माफ करें शिवराज और माफ करें महाराज, आइए कांग्रेस को मौका देते हैं.”नर्मदा संसद में सर्वसम्मति से निर्णय हुआ कि चुनाव में साधु-संत कांग्रेस के लिए काम करेंगे। कंप्यूटर बाबा ने कहा, “शनिवार से साधु-संत कांग्रेस के लिए जुट जाएं और नई सरकार बनाएं.”मंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद सरकार और कंप्यूटर बाबा में जमकर तनातनी चलती रही है. बाबा अब लगातार राज्य के विभिन्न हिस्सों में जाकर संतों का सम्मेलन कर रहे हैं.

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here