राजधानी दिल्ली से किसानों की हुंकार ,हमें अयोध्या में मंदिर नहीं ,कर्ज़ माफी चाहिए

0
219

नई दिल्ली: देशभर से राजधानी दिल्ली में एक बार फिर अन्नदाता कहे जाने वाले गरीब मज़दूर अपने अधिकारों के लिये,कर्ज के नीचे दबे हुए सरकार से कर्ज माफी की गुहार लगाने के लिये इकठ्ठा हुए हैं।

राजधानी नई दिल्ली के रामलीला मैदान में किसान मुक्ति मोर्चा अपनी दो सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन कर रहा पहली मांग है कि उन्हें कर्ज से पूरी तरह मुक्ति दी जाए और दूसरी अपनी दूसरी मांग में फसलों की लागत का डेढ़ गुना मुआवजा चाहते हैं।

ऐतिहासिक रामलीला मैदान पर लाल टोपी पहने और लाल झंडा लिए किसानों ने ‘अयोध्या नहीं, कर्ज माफी चाहिए’ जैसे नारे लगाए. वे रात रामलीला मैदान में ही बिताएंगे और शुक्रवार को अपनी मांगों को लेकर संसद की तरफ मार्च करेंगे. मैदान सुबह साढ़े 10 बजे से भरना शुरू हो गया जब दिल्ली और हरियाणा तथा पंजाब के किसान जुटने लगे. करीब 13 हजार लोग मैदान में पहुंच चुके हैं और कई अब भी रास्ते में हैं.

आयोजकों ने कहा कि कुछ मैदान में लगे टेंट में सोएंगे वहीं कुछ पास के गुरुद्वारों में चले जाएंगे. ऑल इंडिया किसान सभा के नेता अतुल अंजान ने कहा, ‘दिल्ली जल बोर्ड हमें पानी के टैंकर मुहैया कराएगा. ‘आप’ के स्थानीय विधायक हमें खाने के पैकेट देंगे. दिल्ली क्षेत्र के पांच गुरुद्वारे हमारा सहयोग कर रहे हैं. बंगला साहिब गुरुद्वारा, शीशगंज साहिब, रकाबगंज, बाप साहिब और मजनूं का टीला रात में किसानों के रुकने की व्यवस्था करेंगे.’

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here