जदयू विधायक की रंगदारी से परेशान कंस्ट्रक्शन कंपनी,पैसे ना देने पर दी जान से मारने की धमकी

0
228

गोपालगंज: सुशासन की सरकार में सुशासन बाबू की पार्टी के विधायक की रंगदारी से परेशान है एक कंस्ट्रक्शन कंपनी। बतौर रंगदारी 50 लाख की मांग की गई है। उक्त कंपनी विधायक के इलाके में काम करने के लिए पहले भी 20 लाख बतौर रंगदारी 20 लाख रुपया दे चुकी है। अब आलम यह है कि एफआईआर दर्ज कराने के बाद भी कंपनी के अधिकारी दहशत में हैं वही विधायक इन आरोपों को खारिज कर रहे हैं।

पटना के उदयगिरी अपार्टमेंट में है Saj Infracon Project India Ltd का दफ्तर। इस कंपनी को गोपालगंज में 20.77 करोड़ का सड़क चौड़ीकरण का काम मिला हुआ है। कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर अखिलेश कुमार जायसवाल ने 28 नवंबर को पटना के शास्त्रीनगर थाना में गोपालगंज के जेडीयू विधायक अमरेंद्र कुमार पांडेय के खिलाफ 50 लाख रुपये की रंगदारी और नहीं देने पर जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज कराया है।

विधायक ने दी जान से मारने की धमकी

जायसवाल के ने कहा कि “उन्हें पहले विधायक के ड्राइवर ने फोन कर विधायक के आवास पर बुलाया। फिर वहां विधायक ने उनसे पचास लाख रुपये की मांग की और पैसे ना देने पर धमकी काम रुकवाने की धमकी भी दी। और कहा कि अगर काम किया तो जान से हाथ धोना पड़ेगा।”

कंपनी के एमडी के अनुसार विधायक से पहले का कोई संबंध नही है। एक कार्यक्रम के दौरान सिर्फ सीएम हॉउस में मुलाकात हुई थी। बाद में जब इस काम का एलॉटमेंट हुआ तब से लेकर अब तक 20 लाख रुपये विधायक के लोगों को दे चुके है। लेकिन फिर से रंगदारी मांगी जा रही है। एमडी के अनुसार ऐसी हालत में काम करना मुश्किल हो गया है। जिला में कोई भी काम करने से पहले और बाद में विधायक से मिलना पड़ता है उनको एक से दो प्रतिशत कमीशन देना पड़ता है। एमडी का कहना है कि जब सुशासन वाली सरकार के विधायक ही इस तरह का काम करेंगे तो आखिर किस बात का सुशासन?

विधायक के खिलाफ कई आपराधिक मामले पहले से ही हैं दर्ज

मामले की प्राथमिकी पटना के शास्त्री नगर थाना में दर्ज की गई है। हालांकि पुलिस के द्वारा अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। विधायक का मामला है इसलिए कोई अधिकारी कैमरे के सामने नहीं आना चाहता है। सूत्र बताते हैं कि जिन नम्बरों का जिक्र एफआईआर में किया गया है उनका कॉल डिटेल और कैफ निकाला जा रहा है।

हालांकि विधायक के हवाले से जो खबर मीडिया में आई है उसमें विधायक ने अपने ऊपर लगे आरोपों से इनकार किया है। आपको बता दें कि विधायक अमरेंद्र पांडेय उर्फ पप्पू पांडेय के खिलाफ कई आपराधिक मामले पहले से ही दर्ज हैं। कुछ ही दिनों पहले विधायक के खिलाफ एक वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमें विधायक बीजेपी के एक व्यक्ति को गोलियों से छलनी कर की धमकी दे रहे हैं। इस वीडियो के आधार पर ही विधायक के खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। आखिर होती भी कैसे सत्ताधारी दल के विधायक जो ठहरे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here