गुजरात में मुसलमानों ने गैर मुस्लिमों के लिये खोल दिये मस्जिद के दरवाज़े,शुरू करी अनोखी पहल

सूरत :गुजरात से इस बार आपसी भाईचारे को बढ़ावा देने के लिए एक अच्छी पहल हुई है,जिसमें दूसरे धर्मों के लोगों को मस्जिद में आने की दावत दी गई और उन्हें इस्लाम और मुसलमानों के बारे में सही जानकारी दी गई,और आपसी गलतफहमी को खत्म किया गया।

ये प्रोग्राम अहमदाबाद की रखियाल इलाके की उमर बिन खत्ताब मस्जिद की ओर से गैर मुस्लिमों के लियें किया गया जिसका शीर्षक “आओ, मस्जिद की मुलाकात करें”रखा गया था, प, जिस में बडी तादाद में गैर मुस्लिमों ने मस्जिद की मुलाकात में पहुँचे, हर आनेवाले गैर मुस्लिम का खजूर और तोहफे के साथ स्वागत किया गया।

मस्जिद में आने के बाद उन्हें नमाज का मकसद, पांच वक्त की नमाज, जुम्मा की नमाज, इदों की नमाज, जनाजे की नमाज, तहज्जुद की नमाज, हज वगैरह के बारे में मालूमात दी गइ. मेहराब, मिम्बर बताये गयें. आनेवाले गैर मुस्लिमों ने वजू करते और नमाज पढते मुसलमानों को देखा और बाद में नमाज में क्या पढा जाता है ?

दुआ कैसे होती है ? उस के बारे में सवाल पूछे. कुछ गैर मुस्लिमों ने यह जानना भी चाहा कि मुसलमान काबे की ओर रुख कर के नमाज क्यों पढते है ?

मस्जिद की दीवारों पर लगें इस्लामिक एकजीबीशन को देखा और इस्लाम के बारे में सवाल पूछे, जिस के जवाब दिये गये. मस्जिद में आने वालों ने इमाम साहब से मुलाकात करके खुशी का इजहार किया. आनेवाले बहुत से गैर मुस्लिमों ने इस पोग्राम पर खुशी जताई और कुछ लोगों ने कहा कि – “हमारी बहुत सालों से तमन्ना थी की कभी मस्जिद को अंदर से जाकर देखें, जो आज पूरी हुइ”. आखिर में हर मस्जिद में आनेवाले गैर मुस्लिम भाइ को शीरखुरमा पीलाया गया।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...