अमेरिका ने ईरान पर प्रतिबंध लगा कर गलत रास्ता चुना है, हार का सामना करने के लिए तैयार रहे : हसन रूहानी

ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा है कि अमेरिका ने ईरान के खिलाफ प्रतिबंध आयद कर गलत रास्ता चुना है और वह हार का सामना करेगा ।

ईरान की अर्धसरकारी समाचार एजेंसी तसनीम के अनुसार राष्ट्रपति हसन रूहानी ने बुधवार को एक बयान में कहा है कि ” अमेरिका को  इस रास्ते में बेशक हार का सामना होगा  उस ने जिस मार्ग को चुना है, वह गलत है अगर वह ईमानदार होते और उन्हें क्षेत्रीय सुरक्षा की कुछ चिंता होती तो वह इस रास्ते का चयन नहीं करते.अगर उन्हें ईरानी जनता कुछ सम्मान होता तो भी वह इस रास्ते पर न चलते ”।

यह भी पढेंईरान के खिलाफ अमेरिका की नई प्रतिबंध अवैध है

उन्होंने कहा: ”अमेरिकियों ने दुनिया और हमारी जनता के सामने खुद को अधिक बदनाम कर लिया है.यह बात हर किसी पर स्पष्ट है कि अमेरिका की नादरसत और क्रूर प्रतिबंध हमारे देश के सम्माननीय लोग प्रभावित करेंगे ”।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प प्रशासन ने 4 नवंबर से ईरान के खिलाफ 2015 में माफ किया गया प्रतिबंध फिर लागू कर दी हैं। उनके तहत ईरान के तेल निर्यात और वित्तीय प्रणाली को लक्षित अलबत्ता अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपयू ने अगले दिन बताया कि मानव आवश्यक वस्तुओं की खरीद पर प्रतिबंध नहीं होंगी और उन्हें इस से अलग रखा जाऐगा 

अमेरिकी सरकार ने अपने करीबी सहयोगियों दक्षिण कोरिया, जापान और भारत सहित आठ देशों को ईरान से तेल खरीद जारी रखने की अनुमति दी है और उन्हें फिलहाल प्रतिबंध से अलग करार दिया है।

हालांकि ईरान उन देशों से कच्चे तेल की बिक्री से प्राप्त होने वाली सौ प्रतिशत आय विदेशी खातों में रखेगा और वह इसे केवल मानव आवश्यकताओं पदार्थ व्यापार या प्रतिबंधों से अलग वस्तुओं और सेवाओं की द्विपक्षीय व्यापार पर ही कर सकेगा।

loading...

आप भी अपना लेख और विज्ञापन इस मेल jjpnewsdesk@gmail.com पर भेज सकते हैं