बीजेपी का ये स्टार राजनीतिक पार्टियों के लिये बन सकता है मुसीबत,एनडीए में कुशवाहा की ले सकते हैं जगह

पटना: बॉलीवुड के सेट डिजाइनर मुकेश साहनी ने हाल ही में विकासशील इंसान पार्टी तैयारी की है और वह निशाद विकास संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं। उपेंद्र कुशवाहा के नेतृत्व वाले आरएलएसपी ने लगभग खुद को एनडीए से दूर करने का फैसला कर लिया,जिसके बाद साहनी जल्द ही एनडीए में कुशवाहा की जगह ले सकते हैं।

जेडीयू साहनी को अपनी पार्टी में शामिल करना चाहता है। बीजेपी भी यही चाहती है और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) ने लगभग खुद को एनडीए से दूर करने का फैसला किया। बिहार के राजनीति में एक नए स्टार की अगुआई वाली पार्टी राज्य में गठबंधन को बचाने के लिए आ सकती है। मुकेश साहनी ‘मल्लाह के बेटे’ (नाविक) कहलाते हैं, वह 2019 के संसदीय चुनाव में एनडीए के नए पार्टनर बन सकते हैं।

वर्तमान में वह ऐसे नेता हैं जिनकी मांग विभिन्न राजनीतिक गठबंधनों में सबसे अधिक है। वह एक अनुभवी राजनेता की तरह, अपने जाति कार्ड का अच्छी तरह से इस्तेमाल कर रहे हैं। साहनी ने इस मिडिया को बताते हुए कहा कि “एनडीए और अन्य गठबंधन के लोग नियमित रूप से हमारे संपर्क में हैं। जो भी पार्टी हमें सबसे अच्छी डील देगी हम उस पार्टी के साथ जुड़ जाएंगे और यह बात एनडीए पर भी लागू होती है।”

बेहद गरीब परिवार से सम्बन्ध रखने वाले साहनी ने कड़ी मेहनत की और इवेंट मैनेजमेंट के माध्यम से बॉलीवुड पहुंचे और हिंदी फिल्मों के लिए सेट तैयार करके मजबूत पदचिह्न छोड़ा। देवदास और बजरंगी भाईजान जैसे ब्लॉकबस्टर्स के माध्यम से उनके सेट डिज़ाइनों ने लोकप्रियता हासिल की।

बिहार में 14% आबादी निशाद जाति की है, जबकि कुशवाहा केवल 6.4% हैं। साहनी चुनाव के दौरान जातिगत राजनीति से अच्छी तरह से अवगत हैं और पिछले कुछ सालों में साहनी निशाद जाति के नेता बनके उभरने में सफल रहे हैं। सभी पार्टियों पर दबाव बनाने के लिए उन्होंने निशाद समुदाय के लिए आरक्षण की मांग की है और चेतावनी दी है कि वह और उनकी पार्टी चुनावी समीकरणों को प्रभावित करेगी।

आप भी अपना लेख और विज्ञापन इस मेल jjpnewsdesk@gmail.com पर भेज सकते हैं

loading...