पाकिस्तानी जेल से रिहा हुए भारतीय नागरिक हामिद अंसारी ने बॉर्डर पहुँचते ही सजदा में गिर गऐ

नई दिल्ली: 6 साल पहले गर्लफ्रैंड से मिलने पाकिस्तान पहुँचे भारतीय नागरिक हामिद अंसारी को पाकिस्तान में गिरफ्तार किया गया था,जिसके बाद उसे गिरफ्तार करके फर्जी पहचान पत्र रखने के आरोप में 2015 में तीन साल की सज़ा सुनाई थी।

पाकिस्तानी जेल से रिहा हुए हामिद अंसारी भारत बार्डर पर पहुँचे तो जज्बाती अंदाज़ में भारतीय सरज़मीन पर पहुँचते ही सजदे किया और मारे खुशी के आँसू निकल पड़े।

यहां उसके इलाके के लोग मंगलवार को उसकी एक झलक पाने के लिए टेलीविजन के सामने बैठे रहे। 33 वर्षीय अंसारी ने पाकिस्तान की जेल से छूटने के बाद वाघा-अटारी सीमा पार की और भारत की सरजमीं को चूमा, वहीं वर्सोवा में उसके पड़ोसियों ने इस खुशी को एक दूसरे को गले लगाकर और मिठाई बांटकर मनाया। वे अंसारी के स्वागत के लिए तैयार हैं।

अंसारी ने अपने माता-पिता को गले लगाया जो उसकी अगवानी करने सीमा क्षेत्र में पहुंचे थे। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसियों ने उसे अवैध तरीके से देश में घुसने पर छह साल पहले हिरासत में ले लिया था। वह कथित तौर पर एक लड़की से मिलने वहां गया था, जिससे उसकी दोस्ती ऑनलाइन हुई थी। अंसारी 2012 में अफगानिस्तान के रास्ते पाकिस्तान गया था।

मुंबई निवासी अंसारी को पेशावर की केंद्रीय जेल में रखा गया। उसकी तीन साल की जेल की सजा 15 दिसंबर को समाप्त हुई लेकिन वह कागजी कार्रवाई पूरी नहीं होने की वजह से तब भारत नहीं आ पाया। मुंबई से अंसारी के परिवार के साथ वाघा तक गये वरिष्ठ पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता जतिन देसाई ने कहा, ”उस समय बड़ा भावनात्मक नजारा था जब हमने हामिद को शाम करीब 5:30 बजे सीमा पार करते और घुटनों के बल भारतीय सरजमीं को चूमते देखा।

loading...

आप भी अपना लेख और विज्ञापन इस मेल jjpnewsdesk@gmail.com पर भेज सकते हैं