अफसर का दर्द कहा मुस्लिम होने के कारण मुझे 17 साल की नौकरी मे,10 जिले और 19 ट्रांसफर किया गया

नई दिल्ली:नियाज अहमद खान पीएचई विभाग के उप सचिव है. 17 साल की नौकरी में उनका 19 बार तबादला हो चुका है. वे 5 उपन्यास लिख चुके हैं. नियाज का अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम और मोनिका बेदी की लव स्टोरी पर आधारित उपन्यास काफी चर्चा में रहा.

मध्य प्रदेश के प्रशासनिक गलियारों में एक अधिकारी के सोशल मीडिया पोस्ट से हड़कंप मच गया है. पीएचई विभाग के डिप्टी सेक्रेट्री नियाज अहमद खान ने अपने ही विभाग के प्रमुख सचिव विवेक अग्रवाल द्वारा बैठक से बाहर निकाले जाने पर प्रताड़ित करने का आरोप लगया है. नियाज अहमद ने इस सिलसिले में मुख्य सचिव से लिखित में शिकायत भी की है.

नियाज अहमद ने कहा है कि खान सरनेम की वजह से उनके साथ भेदभाव किया जाता है. उनका कहना है कि 17 साल की नौकरी में उनका 10 जिलों में 19 बार ट्रांसफर किया जा चुका है. अहमद ने आरोप लगाया कि उन्हें एक विशेष धर्म में आस्था रखने की वजह से भेदभाव का शिकार होना पड़ा. उनके खिलाफ कोई जांच नहीं है, इसके बावजूद उन्हें अवसरों से महरूम किया जा रहा है.

नियाज ने कहा कि जैसे ही आपके नाम के साथ खान जुड़ जाता है तो आप कई मौकों के लिए डिसक्वालिफाई कर दिए जाते हैं.

नियाज अहमद पीएचई विभाग के उप सचिव हैं. उनका 17 साल की नौकरी में 10 जिलों में 19 बार तबादला हो चुका है. नियाज अहमद खान अब तक 5 उपन्यास लिख चुके हैं. नियाज का अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम और मोनिका बेदी की लव स्टोरी पर आधारित उपन्यास काफी चर्चा में रहा.

इसके अलावा वे तीन तलाक पर भी पुस्तक लिख चुके हैं, जिसका उन्हें विरोध भी झेलना पड़ा. नियाज ने गुना में अपर कलेक्टर रहने के दौरान ओडीएफ घोटाला उजागर किया था.

आप भी अपना लेख और विज्ञापन इस मेल jjpnewsdesk@gmail.com पर भेज सकते हैं

loading...