इजरायल को फ़िलिस्तीनी जनता के एक एक बून्द खून का हिसाब देना होगा: हमास

बैतूल मक़दिस (जे जे पी न्यूज़ ) इस्लामी आंदोलन प्रतिरोध ‘हमास’ ने कहा है कि यहूदी राज्य के युद्ध अपराधों से इंसानों के साथ वनस्पति और जमादात भी सुरक्षित नहीं। यहूदी राज्य फिलीस्तीनी लोगों के खिलाफ अपराध की निरंतरता पर इस बात का सबूत है कि दुश्मन फिलीस्तीनी लोगों को स्वीकार करने को तैयार नहीं। हमास का कहना है कि फिलीस्तीनी लोगों को दुश्मन अपराध का मुकाबला करने के लिए सभी संसाधनों का उपयोग करने का अधिकार प्राप्त है।

हमास ने फिलीस्तीनी युवा सलामह कझबना की अरिहा में इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में शहादत को एक नया युद्ध अपराध करार दिया। बयान में कहा गया कि इसराइल को फिलीस्तीनी राष्ट्र के शहीदों के खून के एक एक बूँद का हिसाब देना होगा। बयान में कहा गया है कि दुश्मन को फिलीस्तीनी लोगों के खिलाफ एक अपराध की गणना देना होगा.खयाल रहे कि पिछले दिनों इजरायली सेना ने ारीषा में एक फिलीस्तीनी

आप भी अपना लेख और विज्ञापन इस मेल jjpnewsdesk@gmail.com पर भेज सकते हैं

loading...