भाजपा टोपी न पहनने पर मुस्लिम छात्रा के साथ हिंसा, कॉलेज शिक्षकों की निगाहों के सामने होता रहा यह सब

उत्तर प्रदेश में एक मुस्लिम छात्रा के साथ भाजपा टोपी न पहनने पर हिंसा का मामला सामने आया है। जे जे पी न्यूज़ को प्राप्त जानकारी के अनुसार मेरठ के एक कॉलेज 22 वर्षीय उम्म्म खान कॉलेज के साथियों के साथ आगरा के दौरे पर थी। बस में कुल 55 छात्र-छात्राओं थे जिसमें उम्म्म अकेली मुसलमान थी । उम्म्म के विभाग से 4 लड़के थे जिसमें दो लड़के और उम्म्म सहित दो लड़की थी। रास्ते में बस रोककर सभी ने शराब पी और भाजपा टोपी खरीदी। लड़कों ने शराब पीने के बाद उम्म्म खान से भेद भाऊ की। शारीरिक हिंसा का शिकार बनाया और टोपी पहनने के लिए मजबूर किया जिससे उसने इंकार किया और वहाँ से निकलने की कोशिश की। उम्म्म खान ने यह सूचना ट्वीट करके दी।

उन्होंने ट्वीट में लिखा कि कल यानी 2 अप्रैल को कॉलेज यात्रा पर आगरा के लिये निकली जिसमें 55 छात्र-छात्राओं थे और चार मेरी संकाय से थी। मैं अकेली मुसलमान थी । एक जगह बस रोक लर लड़कों ने शराब पी और भाजपा टोपी खरीदी इसके बाद मेरे साथ बुरा भेद और टोपी पहनान चाहा जो मैंने मना किया। उम्म्म ने यह भी लिखा है कि जब यह सब हो रहा था तो कॉलेज के दो शिक्षक भी मौजूद थे जिन्होंने कुछ नहीं कहा, न मेरी मदद और न ही लोगों को रोका।

loading...

आप भी अपना लेख और विज्ञापन इस मेल jjpnewsdesk@gmail.com पर भेज सकते हैं