मुस्लिम इलाके में कर रहे थे रैली, अजान शुरू होते ही सिद्धू ने लगये अल्लाह हु अक्बर के नारे

नई दिल्ली: क्रिकेटर से नेता बने और टीवी दुनिया के जाने माने चेहरे नवजोत सिंह सिद्धू लोकसभा चुनाव के दौरान एक मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र में सभा कर रहे थे कि अचानक अज़ान शुरू होगई,दर्शकों में से किसी ने उन्हें अज़ान पर टोका जिसके बाद सिद्धू ने भले ही भाषण छोड़ दिया हो लेकिन उसके बाद जो किया वो भी ठीक नही था।

अजान शुरू होने के बाद भाषण छोड़ सिद्धू नारे लगवाने लगे,सिद्धू ने कहा “नारा लगाओ सब। दोनों हाथ उठाकर नारा लगाओ। पहले सिखों वाला लगाएंगे, फिर मुसलमानों वाला और फिर हिंदुओं वाला। सब लगाएंगे देखो। …जो बोले सो निहाल, अल्ला हो अकबर बोलो भाई। हम सब एक हैं, मेरे भाई। एक हैं। तुम मेरे भगवान हो। एक बार हाथ खड़े कर के भारत माता की जय कर दो। फिर हम चलते हैं और तुम नमाज पढ़ने जाओ। भारत माता की जय। भारत माता की जय…। अब ध्यान रखना कि तुम बंटोगे नहीं। तुम्हारा वोट इकट्ठा रहेगा। अब सिद्धू तुम्हारा धन्यवाद कर रहा है।” ये वाकया शुक्रवार की है, जब वे बिहार के किशनगंज में सभा को संबोधित कर रहे थे।

 

सिद्धू ने इस मौके पर नरेंद्र मोदी सरकार के ‘मैं भी चौकीदार अभियान’ पर तीखा हमला बोला और कहा कि सरकार देश में प्रत्येक व्यक्ति को एक चौकीदार बनाने में व्यस्त है जबकि विकसित देश नये क्षितिज खोजने में लगे हैं। राहुल गांधी द्वारा मोदी पर ‘‘चौकीदार चोर है’’ नारे से हमला किये जाने के बाद ‘‘मैं भी चौकीदार अभियान’’ सामने आया है।

सिद्धू ने यहां एक चुनावी रैली में कहा कि चीन पानी के नीचे रेललाइन बिछा रहा है, अमेरिका अंतरिक्ष में जीवन को बरकरार रखने की संभावना का पता लगा रहा है, रूस अविश्वसनीय रोबोट लेकर आ रहा है। और यहां ये लोग सभी को चौकीदार बनाने पर अड़े हुए हैं।

भाजपा के पूर्व नेता सिद्धू कुछ वर्ष पहले कांग्रेस में शामिल हो गए थे। सिद्धू वर्तमान में पंजाब सरकार में मंत्री हैं। उन्होंने कहा कि ये चौकीदार बड़े उद्योगपतियों के महलों की सुरक्षा करते हैं। उन्हें आम लोगों की झोपड़ियों की कोई चिंता नहीं है।

उन्होंने कहा कि नारा ‘सबका साथ सबका विकास’ खोखला है। इस सरकार में अडानी और अंबानी जैसे लोगों को ही विकास का अनुभव हुआ। उच्चतम न्यायालय में केंद्र द्वारा यह कहे जाने का उल्लेख करते हुए कि राफेल सौदे के कुछ कागजात रक्षा मंत्रालय के कार्यालय से गुम हुए, सिद्धू ने कहा कि वे संवेदनशील कागजात को नहीं संभाल सकते। वे देश चलाने की क्षमता के बारे में क्या बोल सकते हैं?

loading...

आप भी अपना लेख और विज्ञापन इस मेल jjpnewsdesk@gmail.com पर भेज सकते हैं