जामिया में CAA प्रदर्शन के दौरान फायरिंग करने वाला आरोपी अब हुआ गिरफ्तार

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

हरियाणा के पटौदी में चार जुलाई को हुई महापंचायत के दौरान सांप्रदायिक भाषण देने के आरोप में गुड़गांव पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है और FIR भी दर्ज की है.

एक रिपोर्ट के मुताबिक, गिरफ्तार किया गया शख्स जनवरी 2020 में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में हुए प्रदर्शन के दौरान जामिया  के बाहर गोली चलाने वाला व्यक्ति ही था.

हालांकि, उस समय उसे कुछ समय बाद ही जमानत पर रिहा कर दिया गया था.

मानेसर के DCP वरुण सिंघला ने कहा कि आरोपी के खिलाफ IPC की धारा 153A विभिन्न समुदायों के बीच वैमनस्य फैलाने, 295A जानबूझकर किसी वर्ग की धार्मिक भावनाएं आहत करना के तहत FIR दर्ज की गई है.

दरअसल गुड़गांव के जमालपुर गांव के स्थानीय निवासी दिनेश की शिकायत पर FIR दर्ज की गई है.

बता दें कि 30 जनवरी 2020 को नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ़ जामिया के पास प्रदर्शन कर रहे एक समूह पर एक युवक ने गोली चला दी थी.

इस घटना में जामिया का एक छात्र घायल हो गया था. बाद में आरोपी युवक की पहचान इसी 17 वर्षीय नाबालिग के रूप में की गई थी.

आरोपी और उसकी ऑनलाइन लोकप्रियता का विस्तार में अध्ययन करने के बाद पत्रकार कौशिक राज और आलीशान जाफरी ने the wire पर प्रकाशित एक लेख में बताया था कि किस तरह से उनके भाषणों की वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल की जाती है.

कौशिक जुलाई को हुई इस महापंचायत में आरोपी ने ‘हिंदुओं से मुस्लिम महिलाओं को अगवा कर लव जिहाद का बदला लेने को कहा था. इतना ही नहीं दर्शकों को मुस्लिम विरोधी नारे लगाते भी सुना गया. आरोपी को ‘जब मुस्लिम काटे जाएंगे, तब राम-राम चिलाएंगे’ कहते भी सुना गया.

राज और जाफरी की रिपोर्ट में पूरा ब्योरा है कि कितनी बार आरोपी ने सोशल मीडिया पर उस कंटेंट को रिलीज किया, जिसमें वह खुलेआम मुस्लिमों के खिलाफ हिंसा का आह्वान कर रहा है.

वीडियो की एक श्रृंखला में की गई हिंसा का संकेत भी मिलता है और इसका शीर्षक ‘गौ रक्षा’ या गाय संरक्षण है.

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...