नफरतों के बीच पुजारी पंकज ठाकर ने मुसलमानों को मंदिर में कराया इफ्तार

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

गुजरात के दलवाना जिले में स्थित वरंदा वीर महाराज मंदिर ने शुक्रवार को मुसलमानों के लिए मग़रिब नमाज़ अदा करने और रमज़ान के महीने में उपवास तोड़ने के लिए अपने दरवाजे खोल दिए।

बनासकांठा गांव के लगभग 100 मुस्लिम निवासियों को 1200 साल पुराने मंदिर में आमंत्रित किया गया था, जो दलवाना के लोगों के लिए महान सामाजिक और धार्मिक महत्व रखता है। मंदिर के पुजारी पंकज ठाकर ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा, “मंदिर इतिहास में पहली बार मुसलमानों के लिए खुला है।”

ठाकर ने आगे कहा, “इस साल, मंदिर ट्रस्ट और ग्राम पंचायत ने उपवास करने वाले मुसलमानों (रोजदारों) को अपना उपवास तोड़ने के लिए आमंत्रित करने का फैसला किया। हमने अपने गांव के 100 से अधिक मुस्लिम रोज़ेदारों के लिए पांच से छह प्रकार के फल, खजूर और शरबत की व्यवस्था की है। मैंने आज अपनी स्थानीय मस्जिद के मौलाना साहब का व्यक्तिगत रूप से स्वागत किया।”

इफ्तार में शामिल हुए लोगों ने शाम के लिए की गई व्यवस्थाओं के लिए मंदिर प्रबंधन का आभार व्यक्त किया।2011 की जनगणना के अनुसार, दलवाना में 2,500 लोग निवास करते हैं, जिसमें राजपूत, पटेल, प्रजापति, देवीपूजक और मुस्लिम समुदायों का वर्चस्व है। जिले में लगभग 50 मुस्लिम परिवार हैं, जो बड़े पैमाने पर खेती और व्यवसाय में लगे हुए हैं।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...