अनिल अंबानी और पूर्व CBI निदेशक आलोक वर्मा भी पेगासस सूची में शामिल

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

एक रिपोर्ट के मुताबिक उद्योगपति अनिल अंबानी और सीबीआई के पूर्व निदेशक आलोक वर्मा के फ़ोन नंबर भी पेगासस जासूसी सूची में शामिल हैं.

अख़बार ने ये रिपोर्ट समाचार वेबसाइट द वॉयर की ख़बर के आधार पर प्रकाशित की है.

रिपोर्ट में दावा किया गया है कि CBI के पूर्व विशेष निदेशक राकेश अस्थाना और पूर्व अतिरिक्त निदेशक एके शर्मा के नंबर भी जासूसी किए गए नंबरों की सूची में शामिल थे.

हो सकता है इन सबकी जासूसी भी पेगासस के ज़रिए की गई हो.

इस सूची में अनिल अंबानी के कर्मचारी टोनी जेसुडान और फ़्रांस की कंपनी दासो एविएशन के भारत में प्रतिनिधि वेंकट राव पोसीना का नंबर भी शामिल है.

रिपोर्ट के मुताबिक आलोक वर्मा के परिजनों के नंबर भी उन नंबरों की सूची में शामिल हैं जिनकी जासूसी किए जाने का शक है.

रिपोर्ट के मुताबिक अनिल अंबानी और उनके कर्मचारियों के नंबरों को साल 2018 में सूची में डाला गया था.

ये वो समय था जब भारत में रफ़ाल लड़ाकू विमान सौदे पर सवाल उठ रहे थे और इसे अदालत में चुनौती दी गई थी.

वहीं वर्मा का फ़ोन नंबर अक्तूबर 2018 में सूची में आया. ये वो समय था जब सीबीआई के अधिकारियों के बीच खींचतान चल रही थी.

उसी समय सीबीआई ने आलोक वर्मा के डिप्टी राकेश अस्थाना के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया था. दोनों ही अधिकारियों को उसी साल 23 अक्तूबर को पदमुक्त कर दिया गया था.

फ़्रांस की खोजी पत्रकारिता करने वाली संस्था फ़ॉरबिडेन स्टोरीज़ ने दुनिया के 16 मीडिया संस्थानों के साथ मिलकर पेगासस प्रोजेक्ट के तहत उन नंबरों की सूची प्रकाशित की है जिनकी जासूसी किए जाने का शक है.

द वॉयर ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सूची में नंबर होने का मतलब ये है कि इसकी जासूसी का शक है, जासूसी कामयाब रही या नहीं यह मोबाइल की फ़ोरेंसिक जांच से ही स्पष्ट हो सकेगा.

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...