रुबिका की वायरल वीडियो पर आरफा खानम ने कसा तंज़ कहा सारी गीदड़-भभकियां सिर्फ़ विपक्ष को दिखाने वाले बेशर्म ‘टॉनिक’ एंकर्स

नई दिल्ली :ABP न्यूज़ पर किसानों को लेकर एक डिबेट चल रहा था ,उस डिबेट को होस्ट कर रही थी रुबिका लियाक़त ,दौरान डिबेट गोदी मीडिया की पत्रकार रुबिका पर खूब भड़के आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह। आजतक किसी न्यूज़ चैनल पर इस तरह से गोदी मीडिया को नहीं धोया गया। संजय सिंह से रुबिका ने पूछा की क्यों NON BJP राज्य होते हुए आम आदमी पार्टी कृषि कानूनों को क्यों नोटिफाई किया ? संजय सिंह जवाब देने लगे तो रुबिका उन्हें तोलना शुरू कर दिया। जिसके बाद संजय सिंह का पारा आसमान पर पहुंच गया और उन्होंने रुबिका को बिका हुआ पत्रकार और अडानी और अम्बानी की दलाल और abp न्यूज़ को मोदी का चैनल कहे दिया। दोनों में खूब बहस हुई

उस के बाद ट्विटर पर लोग रुबिका को टैग कर के खूब ट्रोल करने लगे किसी ने लिखा ,संघी आंटी की गजब की बेइज़्ज़ती ,तो वही संजय सिंह ने भी ट्वीट कर लिखा “अडानी-अम्बानी की ग़ुलाम सरकार की चाटुकारिता करने वाली पत्रकारिता को देश कभी माफ़ नहीं करेगा।“किसानो का साथ दो दलालों का नहीं”

तो वहीं संजय सिंह के इस वायरल वीडियो पर आरफा खानम शेरवानी ने भी रुबिका पर तंज़ कस्ते हुए कहा सारी गीदड़-भभकियां सिर्फ़ विपक्ष को दिखाने वाले बेशर्म ‘टॉनिक’ एंकर्स ने इसकी रत्ती बराबर भी बहादुरी सरकार से सवाल पूछने में दिखाई होती तो आज भारत में अघोषित आपातकाल नहीं होता।स्टूडियो से निकलकर एक बार किसानों के बीच जायें और देखें कि आम नागरिक के बीच इनकी क्या विश्वसनीयता है।

बता दें की दिल्ली की हाड़ कंपाने वाली ठंड में चल रहे किसान आंदोलन को 22 दिन हो चुके हैं। किसान भाजपा द्वारा लाए गए कृषि कानूनों को वापिस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं।मोदी सरकार अलग-अलग तरीकों से कृषि कानूनों को लेकर समझाने की कोशिश में जुटी हुई है। लेकिन किसान इन काले कानूनों के खिलाफ अपनी लड़ाई तब तक नहीं छोड़ेंगे। जब तक मोदी सरकार इन्हें निरस्त नहीं करती।दिल्ली में पड़ रही कड़ाके की ठंड के बीच अब तक आंदोलन के दौरान 22 किसानों की मौत हो चुकी है। इस मामले में भाजपा सरकार विपक्ष के निशाने पर आ चुकी है।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...