मोदी सरकार में चरमरा रही है बैंक की हालत,रेटिंग एजेंसी ने किया दावा,बैंक क्रेडिट ग्रोथ 2020-21 में और गिरेगा !

नई दिल्ली : भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के अनुसार, बैंक क्रेडिट और डिपॉजिट में क्रमशः 6.18% और 11% की वृद्धि के साथ 102.45 लाख करोड़ रुपये और 138.67 लाख करोड़ रुपये की वृद्धि देखी गई।

इस साल 5 जून को समाप्त हुए पिछले आँकड़ो में, 6.24 % और जमा राशि में 11.28% की वृद्धि हुई थी।

रेटिंग एजेंसी क्रिसिल की हालिया रिपोर्ट के अनुसार, 2020-21 में बैंक क्रेडिट ग्रोथ ( 0-1)प्रतिशत से कम होने की संभावना है, क्योंकि COVID-19 महामारी से आर्थिक गतिविधि तेजी से प्रभावित हो रही है।

मई 2020 के लिए, RBI के आंकड़ों के अनुसार, नॉन फ़ूड क्रेडिट ग्रोथ की वृद्धि पिछले वर्ष की इसी अवधि में 11.4 प्रतिशत से घटकर 6.8 प्रतिशत हो गई।

24 मई, 2019 को बकाया वृद्धिशील नॉन फ़ूड क्रेडिट ग्रोथ 90.3 लाख करोड़ रुपये (US $ 1.28 ट्रिलियन) था, जबकि 22 मई, 2020 तक 24.51 लाख करोड़ रुपये (US$ 1.19 ट्रिलियन) हो गई।

मई 2020 में, उद्योग के लिए बैंक लोन की वृद्धि दर पिछले वर्ष के इसी महीने में 6.4 % से घटकर 1.7 % हो गई।

सर्विस क्षेत्र की लोन वृद्धि मई में घटकर 11.2 % रह गई, जबकि एक साल पहले यह 14.8 % थी।

आरबीआई के आंकड़ों के मुताबिक, मई 2020 में पर्सनल लोन की ग्रोथ घटकर 10.6 फीसदी रही, जो मई 2019 में 16.9 फीसदी थी

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...