BJP सिर्फ कंगना का घर बचाना चाहती है, गरीबों के झुग्गियों को नहीं:राघव चड्ढा

नई दिल्ली :दिल्ली में रेलवे पटरियों के आसपास बनी झुग्गियों को खाली करने के आदेश ने राजनीतिक हलके में खलबली मचा दी है. इन झुग्गियों में सालों से लाखों लोग रह रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सभी राजनीतिक दल इस मामले में सक्रिय हो गए हैं. सुप्रीम कोर्ट से आए इस आदेश को बदलवाने के लिए कई दलों के नेता सर्वोच्च न्यायालय की चौखट पर पहुंच रहे हैं. दरअसल इन झुग्गियों में 2.5 लाख से ज्यादा लोग रहते हैं. इस वोट बैंक पर हर पार्टी की नजर है.

दिल्ली सरकार इस मामले में पुनर्विचार याचिका दायर करने जा रही है. वहीं कांग्रेस नेता अजय माकन और महाबल मिश्रा ने भी याचिकाएं दाखिल की हैं. दिल्ली सरकार दिल्ली शहरी आश्रय विकास बोर्ड और दूसरे कानूनों की आड़ लेकर कोर्ट को यह बताएगी कि बिना वैकल्पिक इंतजाम किए रेलवे ट्रैक्स के आसपास बसे परिवारों को उजाड़ा नहीं जा सकता है.

इस मामले में आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा ने भी भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि “पूरी भारतीय जनता पार्टी दिल्ली की 48,000 झुग्गियों में रह रहे लोगों का आशियाना उजाड़कर एक कंगना रनौत का घर बनवाने में लगी हुई है।”

आदमी पार्टी के नेता राघव चड्ढा ने कहा है कि मोदी सरकार गरीबों की झुग्गियों को तोड़ने की साजिश रच रही है। बीजेपी के लोग झुग्गियों पर जाकर नोटिस चिपका रहे हैं। लाखों झुग्गी वासियों को बेघर किया जा रहा है।

लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भाजपा की इस साजिश को कामयाब नहीं होने देंगे। इसके लिए दिल्ली सरकार सुप्रीम कोर्ट भी जाएगी। अगर जरूरत पड़ी तो भाजपा के खिलाफ आंदोलन भी चलाएगी।

Donate to JJP News
अगर आपको लगता है कि हम आप कि आवाज़ बन रहे हैं ,तो हमें अपना योगदान कर आप भी हमारी आवाज़ बनें |

Donate Now

loading...