मुसलमानों के खिलाफ नफरत रोके भारत , वरना मुस्लिम देश भारतीय उत्पादों का कर सकता है बहिष्कार:कुवैत स्कॉलर

रियाद: सऊदी स्कॉलर आब्दी ज़हरानी के बाद अब कुवैत के स्कॉलर अब्दुल्ला अल शर्किया ने कह दिया दिया है कि मुसलमानों के खिलाफ नफरत फैलाने और अपराध में शामिल उग्रवादी हिंदुओं की वजह से भारतीय उत्पादों और वस्तुओं का बहिष्कार किया जा सकता है।

उन्होंने इन सभी बातों को अपने ट्विटर के माध्यम से कहा है उन्होंने अपने ट्विटर पर लिखा मैं सभी गैर सरकारी संगठनों को भारत में मुसलमानों की रक्षा के लिए मानवाधिकार परिषद में हमारे साथ खड़े होने के लिए आमंत्रित करता हूं, क्योंकि भारत मैं मुसलमानों के साथ यह बर्ताव नरसंहार के अधीन हैं

उन्होंने अपने अगले ट्वीट मैं कहा भारत में मुसलमानों पर इन क्रूर हमलों की दृढ़ता के परिणामस्वरूप मुस्लिम देशों द्वारा भारतीय उत्पादों और वस्तुओं का बहिष्कार किया जा सकता है

उन्होंने ने भारत की तारीफ भी की लिखा भारत एक बड़ा और प्राचीन देश है, और लोगों ने सदियों से विभिन्न धर्मों और जातियों के बीच शांति से सहवास किया है, लेकिन अब भारतीय मुसलमानों के खिलाफ इन नस्लवादी अपराधों से भारत की छवि धूमिल होगी

उन्होंने ने आगे कहा भारत में मुसलमानों के खिलाफ क्रूर अभियान (कोरोना) की तुलना में अधिक खतरनाक माना जाता है

उन्होंने ने सवाल उठाते हुए कहा हम किसी भी निर्दोष व्यक्ति की आक्रामकता को स्वीकार नहीं करते हैं, उसके धर्म या जात पात की परवाह किए बिना।  अगर हमारे देश में एक गैर-मुस्लिम व्यक्ति के साथ अन्याय हुआ है, तो हम उसका बचाव करेंगे।  भारत में मुसलमान अपराध के बिना इन क्रूर हमलों के अधीन क्यों हैं?

उन्होंने ने भारत सरकार से अपील करते हुए कहा हम भारत में सरकारों से अपील करते हैं कि वे उन संगठनों को रोकें जो मुसलमानों या दूसरों पर हमला करते हैं ताकि समस्या बड़ी न हो।

Donate to JJP News
अगर आपको लगता है कि हम आप कि आवाज़ बन रहे हैं ,तो हमें अपना योगदान कर आप भी हमारी आवाज़ बनें |

Donate Now

loading...