हाथरस की बलात्कार पीड़िता से मिलने जा रहे थे चन्द्रशेखर को पुलिस ने रोका, तो चकमा दे कर बस से ही अलीगढ़ पहुंचे गए भीम आर्मी प्रमुख,कहा ना रूका हूँ,ओर ना रूकूंगा

नई दिल्ली :भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर पुलिस को चकमा देकर हाथरस की रेप पीडिता से मिलने अलीगढ मेडिकल कॉलेज पहुंचे। इसके बाद चंद्रशेखर पीड़ित परिवार से मिलने हाथरस भी गए। पुलिस ने चंद्रशेखर को काफिला गाजियाबाद टोल पर ही रोक दिया था।

हाथरस के गांव बूलगढ़ी की लड़की पर दस दिन पहले उस समय हमला हुआ था, जब वह मां के के साथ खेत पर चारा लेने गई थी। पहले एक आरोपित के खिलाफ जानलेवा हमले का मुकदमा दर्ज हुआ था। बाद में युवती के बयान के आधार पर चार युवकों पर सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज किया गया। इसके बाद से मामला गरमा गया।

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ने रेप पीड़िता से टवीट कर मिलने का ऐलान किया था। चंद्रशेखर के ऐलान के बाद पुलिस भी सक्रिय हो गई थी। अलीगढ में भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया था।

आजाद समाज पार्टी के मीडिया प्रभारी टिंकू कपिल ने बताया कि रविवार को भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर का काफिला जैसे ही गाजियाबाद टोल के पास पहुंचा तो पुलिस ने काफिला रोक दिया। इसके बाद भीम आर्मी प्रमुख ने पुलिस को चकमा देकर बस में सवार हो गए।

चंद्रशेखर बस में सवार होकर अलीगढ पहुंचे और रेप पीड़िता से मुलाकात की। इसके बाद चंद्रशेखर पीड़ित परिवार से मिलने के लिए हाथरस भी गए। अलीगढ में भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने पुलिस के विरोध में प्रदर्शन भी किया।

Donate to JJP News
अगर आपको लगता है कि हम आप कि आवाज़ बन रहे हैं ,तो हमें अपना योगदान कर आप भी हमारी आवाज़ बनें |

Donate Now

loading...