अदालत का आज़म खान के हक़ में बड़ा फैसला, हमसफर रिसोर्ट को ध्वस्त करने पर लगाई रोक

प्रयागराज,उत्तर प्रदेश:समाजवादी पार्टी के सांसद मोहम्मद आज़म खान को इलाहाबाद हाई कोर्ट ने बड़ी राहत देते हुए उनके रिसोर्ट को ध्वस्त करने पर रोक लगा दी है।

हमसफर नाम का रिसोर्ट आज़म खान की पत्नी श्रीमती तंजीम फातिमा के नाम पर हैं। जिसे उत्तर प्रदेश गवर्नमेंट ने ध्वस्त करने का आर्डर पास किया था।
दो न्यायाधीशों की पीठ में न्यायमूर्ति एसके गुप्ता और न्यायमूर्ति पीयूष अग्रवाल ने उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा विध्वंस के आदेश के खिलाफ तंजीम फातिमा द्वारा दायर याचिका पर फैसला सुनाते हुए विध्वंस पर रोक लगा दी है।

आपको बता दें कि रामपुर विकास प्राधिकरण (RDA) ने रिसोर्ट को विध्वंस के आदेश जारी किए थे क्योंकि राज्य सरकार ने आरोप लगाया था कि रिसोर्ट का निर्माण सरकारी भूमि पर किया गया है।

अदालत ने कहा कि डिमोलिशन के आदेश के खिलाफ याचिकाकर्ता के पास अपील का एक विकल्प मौजूद है। जिसमें यदि वह चाहे तो धारा 27 (2) के तहत डिमोलिशन के आदेशों के खिलाफ अपील दायर कर सकते हैं।

अदालत ने कहा कि यदि याचिकाकर्ता दी गई तारीख पर अपील दायर नहीं करता तो 4 सप्ताह के भीतर योग्यता के आधार पर तेज़ी से निर्णय लिया जाएगा।

ध्यान रहे समाजवादी पार्टी की विधायक तंजीम फातिमा सीता नगर में अपने पति मोहम्मद आज़म खान और बेटे अब्दुल्ला आज़म के साथ धोखाधड़ी और जालसाजी के आरोप में फरवरी से जेल में हैं।

Donate to JJP News
अगर आपको लगता है कि हम आप कि आवाज़ बन रहे हैं ,तो हमें अपना योगदान कर आप भी हमारी आवाज़ बनें |

Donate Now

loading...