कोर्ट ने पिंकी चौधरी के जमानत याचिका को किया खारिज ,कहा- ये देश तालिबान नहीं है

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के शासनकाल में दबंगों की निडरता हम लोग आए दिन देखते हैं। इसी से संबंधित दिल्ली के जंतर मंतर से पिंकी चौधरी का नाम भी कुछ दिन पहले हम सब ने सुना था।

पिंकी चौधरी ने जंतर मंतर पर समुदाय विशेष के खिलाफ भड़काऊ भाषण दिया था। जिसके बाद सोशल मीडिया पर वीडियो के वायरल होते ही लोगों ने आपत्ति जताई थी व इस संदर्भ में न्याय की मांग भी की थी

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने जंतर-मंतर पर समुदाय विशेष के खिलाफ हुई नारेबाजी के मामले में पिंकी चौधरी की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी , और खारिज करते हुए कहा कि हम कोई तालिबानी राज्य नहीं है। यहां अलग-अलग धर्म संस्कृति के लोग रहते हैं। हमारे देश में रूल ऑफ लॉ का शासन है।

साथ ही बता दें जंतर-मंतर पर समुदाय विशेष के खिलाफ हुई नारेबाजी के मामले में पुलिस को पिंकी चौधरी की तलाश है।

इससे पहले पुलिस ने भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रवक्ता अश्विनी उपाध्याय समेत छह लोगों को गिरफ्तार क‍िया है। एक अधिकारी के अनुसार, पिंकी चौधरी इस मामले के प्रमुख संदिग्‍धों में से एक है।

पुलिस कमिश्‍नर राकेश अस्‍थाना ने इलाके के DCP और जॉइंट कमिश्‍नर को मामला सौंपा है। कई लोगों की पहचान हो चुकी है और उनकी तलाश में दबिश दी जा चुकी है।

जंतर मंतर का विडियो पुलिस के पास पहुंचने के बाद IPC 153A और 188A के तहत FIR दर्ज हुई थी।

इससे पहले, दिल्ली की एक अदालत ने दिल्ली बीजेपी के पूर्व प्रवक्ता और सुप्रीम कोर्ट के वकील अश्विनी उपाध्याय की जमानत याचिका को स्वीकार कर लिया था.

जिन्हें जंतर-मंतर पर आयोजित एक कार्यक्रम में मुस्लिम विरोधी नारे लगाने के मामले में गिरफ्तार किया गया था और दो दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...