हर गर्भवती महिला को ये फल ज़रूर खाना चाहिए बच्चे होंगे खूबसूरत!

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

आज हम ऐसे ही एक फल के बारे में बात करने जा रहे हैं। जिसके फायदे हदीसों में बताए गए हैं और इस फल को लेकर कई रिवायत मौजूद हैं। फल को उर्दू में बिही,अरबी में सफरजल और अंग्रेजी में केविंस कहा जाता है। यह सेब के आकार का फल है जो जंगलों में प्राकृतिक रूप से उगता है और इसकी खेती भी की जाती है।

गर्भवती महिलाओं को विशेष रूप से खाने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। जिसके बारे में हमारे पाक पैगंबर ने कहा या इस फल का प्रयोग किया करें। इस फल में अल्लाह ने बहुत से खुसूसियत रखी है कई जड़ी-बूटियों और फलों को जो दिल को मजबूत करने के लिए जाता है तिब्बे नबवी में दवा का उल्लेख किया गया है।

जो आड़ू और सेब के समान है और हदीसों में भी इसका बहुत उल्लेख है। और यह भी कहा गया है कि जो महिलाएं खाती हैं वे अधिक सुंदर बच्चे पैदा करती हैं। इस फल में चालीस पुरुषों की शक्ति होती है।

एक वक्त में कई विटामिन पाए जाते हैं। बई का मुरब्बा इस हवाले से बेहतरीन ग़ज़ा है, सुबह बासी मुंह खाने से दिल की बीमारियों से बचाता है। इब्ने माजा ने अपनी सुन्नत में रिवायत है हज़रत तल्हा बिन उबैदुल्लाह से रिवायत है कि मैं हुजूर सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की खिदमत में हाजिर हुआ, आपके हाथ में एक बई थी। मुझे मुझे देखकर आप ने फरमाया आजा तल्हा इसे ले लो इसलिए कि यह दिल को मजबूत बनाती है।… एक हदीस के अनुसार आप ने फरमाया कि अपनी गर्भवती महिलाओं को भी खिलाया करो क्योंकि यह दिल की बीमारियों को ठीक करता है और बच्चे को खूबसूरत बनाता है।

बहुत अधिक कुष्ठ खाने से कुष्ठ रोग होता है। यह बिल्कुल गलत है।… क्योंकि कुष्ठ रोग एक छूत की बीमारी है जो कीटाणुओं के कारण होती है, यह बई के कारण नहीं होती है। चिकित्सकों का अवलोकन मीठा बई ठंडक पहुंचाता है जबकि खटास कब्ज है। यह पेट को मजबूत करता है। प्यास कम करता है उल्टी रोकता है। यह मूत्रवर्धक है।

यह पेट के अल्सर में उपयोगी है। खून पैदा करता है दिल और लीवर को मजबूत करता है भूख बढ़ाता है इसे खाने से दिल की वाल्ज़ खुल जाते हैं जिन महिलाओं को मिट्टी खाने की आदत होती है। वो भी खाए तो मिट्टी खाने की आदत जाती रहेगी ।

ज्यादा खाने से हिचकी आती है खांसी की गंभीरता कम हो जाती है इसे खाने से मुंह के छाले और गले की खराश ठीक हो जाती है। नबी (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) ने कहा इसे बासी मुंह खाओ इसका मुरब्बा दिल के मरीजों और अस्थमा और पुरानी पेचिश में बहुत उपयोगी बई का रस यूरोप में बहुत लोकप्रिय है। क्वींस जूस या स्क्वैश के नाम से बिकने वाले ये जूश प्यास बुझाने वाला बताया गया है।……

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...