मोदी सरकार परेशान ,एक को संभालो तो दूसरी नहीं संभलती,डॉलर के मुकाबले रूपये में रिकवरी से सोने-चांदी में आ गई कमजोरी

मोदी सरकार में रुपए लगतार डॉलर से निचले अस्तर पर चल रहा है लेकिन अब खबर है की रुपए में डॉलर के मुकाबले सुधार देखने को मिला है तो वही दूसरी चीज़ में गिरावट देखने को मिल रही है ,हम बात कर रहे हैं सोने-चांदी की तो इन की कीमतों पर आज हल्का दबाव देखने को मिल रहा है। डॉलर में रिकवरी से सोने-चांदी में कमजोरी है। लेकिन ज्वेलरी बाजार के लिए एक झटके वाली खबर है। सरकार ने इस सेक्टर को PMLA यानी Prevention of Money Laundering Act के दायरे में डाल दिया है। जिसके बाद अब ज्वेलरी के 10 लाख से ज्यादा के सौदों के लिए KYC दस्तावेज देना जरूरी होगा। इसके अलावा ज्वेलर्स को सभी बड़े सौदों की जानकारी फाइनेंशियल इंटेलिजेंस यूनिट को देना होगा। वित्त मंत्रालय ने इसके लिए 28 दिसंबर को नोटिफिकेशन जारी किया था।

सोने में कमजोरी:MCX पर सोना 50750 रुपए के स्तर के करीब है। कॉमेक्स पर सोना 1,900 डॉलर के आसपास है। डॉलर में रिकवरी से सोने में कमजोरी आई है। US ट्रेजरी ईल्ड बढ़ने से सोने पर दबाव है।

चांदी में कमजोरी:MCX पर चांदी 70,000 रुपए के नीचे है। डॉलर में रिकवरी से चांदी पर दबाव। US ट्रेजरी ईल्ड बढ़ने से भी कमजोरी बनी है।

क्रूड में मजबूती:ब्रेंट के दाम 54 डॉलर के ऊपर बने हुए हैं। ब्रेंट 11 महीने के ऊपरी स्तर पर है। सऊदी अरब की उत्पादन कटौती से सहारा मिल रहा है।

मेटल्स में मुनाफावसूली:मेटल्स में मुनाफावसूली देखने को मिल रही है जिसके चलते ज्यादातर मेटल्स में कमजोरी है। डॉलर में रिकवरी से मेटल्स पर दबाव है।

Donate to JJP News
अगर आपको लगता है कि हम आप कि आवाज़ बन रहे हैं ,तो हमें अपना योगदान कर आप भी हमारी आवाज़ बनें |

Donate Now

loading...