सरकार बताएं कि आखिर वो 23 लाख करोड़ रुपये कहां हैं जिसे 2014 के बाद से मोदी सरकार ने पेट्रोल, डीजल और गैस की कीमतों से कमाया है : राहुल गांधी

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

नई दिल्ली : जुनैद मलिक अत्तारी ,कांग्रेस नेता व केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने बुधवार को कांग्रेस मुख्यालय में महंगाई के मुद्दे पर प्रेस कांफ्रेंस के जरिए एक बार फिर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने कहा कि पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से देश की जनता परेशान है और इससे जनता को सीधे तौर पर चोट लगती है।उन्होंने कहा कि एक तो सीधे गाड़ी में ईंधन भरवाने से जनता पर बोझ पड़ता है दूसरा, पेट्रोल-डीजल महंगा होने से ट्रांसपोर्ट महंगा होता है जिससे बाकी चीजों के दाम भी बढ़ जाते हैं। राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी का फायदा सिर्फ मोदीजी के 4-5 उद्योगपति दोस्तों को हो रहा है । उन्होंने कहा कि बताया ये जाता है कि देश की जीडीपी बढ़ रही है लेकिन असल मायनों में गैस, डीजल और पेट्रोल के दाम बढ़ रहे हैं। इंटरनेशनल मार्केट में तेल के दाम लगातार घट रहे हैं, बावजूद इसके हमारे यहां पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ रहे हैं। आज हिन्दुस्तान की संपत्ति को बेचा जा रहा है लेकिन सवाल ये है कि आखिर ये पैसा जा कहां रहा है। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि केंद्र की मोदी सरकार में लोगों की आवाज को दबाया जा रहा है, संसद में चर्चा नहीं करने दे रहे जिससे लोगों के बीच गुस्सा और बढ़ रहा है। राहुल गांधी ने कहा कि किसानों से लेकर मजदूरों, छोटे कारोबारी, सैलरीड क्लास, सरकारी कर्मचारी और ईमानदार उद्योगपतियों की नोटबंदी हो गई।लेकिन मोदीजी के 4-5 दोस्तों के लिए मोनेटाइजेशन हुआ है और लगातार इकोनॉमिक ट्रांसफर हुए हैं।कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए पूछा कि सरकार बताए कि आखिर वो 23 लाख करोड़ रुपये कहां हैं जिसे 2014 के बाद से केंद्र सरकार ने पेट्रोल, डीजल और गैस की कीमतों से कमाया है। जब 2014 में यूपीए सत्ता से बाहर हुई तो एक एलपीजी सिलेंडर 410 रुपये का था और आज उसकी कीमत 885 रुपये है, इसमें 116 फीसदी का इजाफा हुआ है। इसी तरह 2014 में 71 रुपये प्रति लीटर का पेट्रोल आज 101 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...