गुजरात में आम आदमी पार्टी के दफ्तर में शराब पीकर पड़ा व्यक्ति निकला बीजेपी का कार्यकर्ता, पुलिस जाँच में हुआ खुलासा

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

राजनीति भी गजब चीज है। विरोधियों को बदनाम करने के लिए ये नेता किसी भी हद से गुजर जाते हैं। ताजा मामला प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के राज्य गुजरात से आया है -ये खबर.

पिछले दिनों सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हुई जिसमें आम आदमी पार्टी के गुजरात कार्यालय के भीतर एक शख्स शराब पीकर सोफे पर पैर चढ़ाकर लेटा हुआ है।

गुजरात बीजेपी के कई नेताओं ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर इस तस्वीर को पोस्ट किया और बाद में सच्चाई सामने आने के बाद उन्हे माफी मांगने की नौबत आ गई।

गुजरात की राजनीति में इन दिनों आम आदमी पार्टी के कार्यालय में शराब पीकर बदहोश पड़े एक व्यक्ति की तस्वीरें चर्चा में है।

बीजेपी[ के नेताओं ने इस तस्वीर को वायरल कर शुरुआत में तो खूब तालियां बटोरी और आम आदमी पार्टी को गालियां सुननी पड़ी लेकिन जब मामला हद से आगे बढ़ गया तो आम आदमी पार्टी के नेता पुलिस तक पहुंच गए।

जब जांच हुई तो मामला कुछ और ही निकल गया और बीजेपी के नेताओं को तस्वीर पोस्ट करने के लिए माफी मांगनी पड़ गई।

यह तस्वीर सूरत के गोपीपुरा इलाके के आम आदमी पार्टी दफ्तर की बताई जा रही है। इसमें एक व्यक्ति शराब के नशे में धुत होकर सोफे पर पैर चढ़ाकर पड़ा हुआ है।

सूरत से बीजेपी के वार्ड पार्षद बृजेश उंडकट ने इस फोटो को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट करते हुए लिखा है कि ये नजारा है आप कार्यालय का है . लोगों ने इस पर तरह तरह के कमेंट लिखे और आप को निशाने पर लिया।

आम आदमी पार्टी के स्थानीय नेताओं ने मामले को पुलिस तक पहुंचाया तो जांच में वो शख्स आप का नहीं बल्कि भाजपा का ही कार्यकर्ता निकल गया। इस में बीजेपी कार्यकर्ता का नाम हिमांशु मेहता है।

CCTV फुटेज की जांच में पता चला कि बीजेपी कार्यकर्ता हिमांशु मेहता शराब के नशे में धुत होकर आम आदमी पार्टी के कार्यालय में लेट जाता है।

बीजेपी की ही दूसरा कार्यकर्ता जयराज साहूकार उसकी फोटो खींचता है। इसके बाद इस फोटो को भारतीय जनता पार्टी के अलग अलग व्हाट्स एप ग्रुपों में भेज दिया जाता है।

आम आदमी पार्टी इसके खिलाफ FIR दर्ज कराती है इसके बाद बीजेपी नेता प्रशांत बरोट लिखित रुप से माफीनामा पुलिस के समक्ष देते हैं. इसके बाद आप ने FIR वापस ले ली।

राजनीतिक रणनीतिकार अंकित लाल ने इस मुद्दे पर ट्वीट करते हुए लिखा है कि दूसरों को बदनाम करने के लिए ये भाजपा वाले कुछ भी कर सकते हैं।

जबकि दिल्ली के डिप्टी मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि हार की संभावनाओं को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी के नेता छिछोरी हरकतें कर रहे हैं।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...