सैकड़ों छात्रों का भविष्य लगा दाव पर, आज़म खान की जौहर यूनिवर्सिटी पर हुआ सरकार का कब्ज़ा

उत्तर प्रदेश सरकार ने आज़म खान को बड़ा झटका देते हुए आज़म खान के ड्रीम प्रोजेक्ट जोहर यूनिवर्सिटी को अपने कब्जे़ में ले लिया है।यह कार्यवाही 16 जनवरी को कोर्ट के आदेश के बाद हुई। रामपुर में यह यूनिवर्सिटी आज़म खान ने लगभग 12.5 एकड़ ज़मीन पर बनाई थी जिसमें विभिन्न क्षेत्रों की बच्चे शिक्षा हासिल कर रहे थे। कोर्ट के आदेश के बाद राजस्व अभिलेखों में ज़मीन से जौहर ट्रस्ट का नाम काटकर यूपी सरकार का नाम चढ़ा दिया गया है। कोर्ट ने आज़म खान पर शर्तों का पालन न करने का आरोप लगाया है। आपको बता दें कि आज़म खान के जोहर ट्रस्ट ने कुछ शर्तों के साथ सपा सरकार के दौरान यह ज़मीन खरीदी थी।

बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने आरोप लगाया था कि ज़मीन खरीदने के बाद शर्तों का पालन नहीं किया गया। जिसके बाद उनके लगाए गए आरोपों की जांच की गई। जिसमें शिकायत को सही पाया गया। एडीएम जेपी गुप्ता के कोर्ट में मुकदमा चलने के बाद 16 जनवरी को ज़मीन के कागज़ात सरकार के नाम करने का आदेश दिया गया।
उधर आज़म खान के राजनैतिक विरोधी और भाजपा नेता आकाश सक्सेना इस फैसले से उत्साहित हैं। उनका कहना है कि इस निर्णय के बाद अब जब ज़्यादातर ज़मीन सरकार की हो चुकी है तो उस पर बनी हुई जौहर यूनिवर्सिटी को भी सरकार को अधिग्रहीत कर लेना चाहिए।

Donate to JJP News
अगर आपको लगता है कि हम आप कि आवाज़ बन रहे हैं ,तो हमें अपना योगदान कर आप भी हमारी आवाज़ बनें |

Donate Now

loading...