नीतीश जी हम आपकी तरह ज़मीर और जनादेश को बेचने वाले नहीं हैं:तेजस्वी

देश की सारी जनता मोदी जी के उस बयान को लेकर रिसर्च में लगी पड़ी है जिसमें मोदी जी ने कहा कि उन्होंने 1987 -88 में डिजिटल कैमरा और मेल का उपयोग किया लेकिन बिहार के मसीहा कहे जाने वाले लालू प्रसाद के लाल तेजस्वी यादव नीतीश की खिल्ली निकालने में जुटे है, उन्होंने ने नीतीश कुमार पर जम कर हमला बोला है।

उन्होंने नीतीश को आड़े हाथों लेते हुए अपने ट्विटर पर लिखा की नीतीश जी, संविधान का ज़रा सा भी ज्ञान है तो पता कर लीजिये निचली अदालत से ऊपर और भी अदालतें है। हम आपकी तरह ज़मीर और जनादेश नहीं बेचते। हम फासीवादियों से डटकर लड़ते और जीतते है। आप 2015 में क्यों लालू जी के पैरों में गिरे थे? क्या जेल से बचने के लिए आपने जनादेश का चीरहरण किया था?

उन्होंने एक दूसरे ट्वीट में नीतीश की धमकी की तरफ इशारा करते हुये लिखा कि नीतीश जी हार की बौखलाहट में अब खुलेआम मंचों से छाती पीट धमकी दे रहे है कि लालू जी को कभी भी जेल से बाहर नहीं आने दूँगा। यानि मान रहे है कि उन्होंने अपने गुर्गों के साथ साज़िश कर लालू जी को जेल भेजा था। नीतीश जी, आपके दोहरे चरित्र का आपका पर्दाफ़ाश हो चुका है।

loading...
आप की बात हम लिखेंगे jjpnewsdesk@gmail.com भेजें

जे जे पी न्यूज़ एक स्वतंत्र, गैर लाभकारी संगठन है हमारी पत्रकारिता को जारी और आज़ाद रखने के लिए आर्थिक मदद करें.