जावेद अख्तर बोले- RSS, विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के समर्थक भी तालिबान से कम नहीं

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

अफगानिस्तान में तालिबान द्वारा किए गए कब्जे के बाद अब जल्द ही वहां सरकार का गठन किया जाने वाला है, खबर के मुताबिक, अफगानिस्तान में तालिबान द्वारा ईरान मॉडल पर सरकार का गठन किया जा सकता है।

तालिबान को लेकर भारत के नेताओं द्वारा अजीबोगरीब बयानबाजी की जा रही है। इसी बीच गीतकार जावेद अख्तर की भी प्रतिक्रिया सामने आई है। उन्होंने तालिबान को बर्बर करार दिया है।

इस संदर्भ में जावेद अख्तर ने NDTV से बात करते हुए तालिबान की हरकतों की जमकर आलोचना की है।

उन्होंने कहा है कि इस बात में कोई दो राय नहीं कि तालिबानी बर्बर है। वो जो भी हरकतें करते आए हैं, वो निंदाजनक है।

तालिबान के मुद्दे पर बातचीत करते हुए गीतकार जावेद अख्तर ने भारत के हिंदूवादी संगठनों RSS, विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि दक्षिणपंथी संगठनों की विचारधारा भी तालिबानी है।

राज्यसभा सांसद रह चुके जावेद अख्तर ने कहा कि अगर तालिबान बारबैरियन है तो RSS, विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल समर्थक भी वैसे ही हैं।

देश में मुसलमानों का एक छोटा सा हिस्सा ही तालिबान का समर्थन कर रहा है। सच्चाई ये है कि दक्षिणपंथी संगठन तालिबान का इस्तेमाल कर खुद को प्रमोट कर रहे हैं।

जिन मुसलमानों से मैंने बात की है। उनमें से ज्यादातर हैरान थे कि कुछ लोगों ने तालिबान के समर्थन में बयान दिए हैं।

भारत में युवा मुसलमान अपनी लिए रोजगार, अच्छी शिक्षा और बच्चों के लिए अच्छी शिक्षा चाहते हैं।

वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसे लोग भी हैं। जो महिला और पुरुषों में भेदभाव करने जैसी सोच रखते हैं। यह देश को पीछे ले जाने वाली सोच है।

जावेद अख्तर का कहना है कि भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है। यहां की आबादी धर्मनिरपेक्ष है। ऐसे में तालिबानियों के विचार किसी भी भारतीयों को आकर्षित नहीं कर सकते। भारत के लोग सभ्य और सहनशील है। भारत कभी भी तालिबानी देश नहीं बन सकता।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...