कन्हैया ने पीएम मोदी पर साधा निशाना ,बोले – तय करें आप बेचने वालों के साथ या बचाने वालों के साथ

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

प्रधानमंत्री मोदी के शासनकाल में बड़े स्तर पर सरकारी संस्थानों का निजीकरण किया जा रहा है। इससे पहले किसी भी सरकार के कार्यकाल में ऐसा नहीं हुआ है।

खबर एजेंसी के मुताबिक, मोदी सरकार अब रेल के साथ-साथ हवाई अड्डों, देश के हाईवे, गैस पाइपलाइन टेलीकॉम टावर, पीएसयू समेत कई सरकारी संपत्तियों को बेचने जा रही है। जिसका रोडमैप जल्द ही देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण सार्वजनिक करने जा रही है।

निर्मला ने बताया है कि आने वाले 4 सालों में सरकार को 6 लाख करोड रुपए जुटाने हैं। जिसके चलते इस योजना पर काम किया जाएगा।

अब तक सामने आया है कि कुल 13 तरह की सरकारी संपत्तियों की हिस्सेदारी को बेचा जाएगा या फिर लीज पर दिया जाएगा। जिसमें हाईवे, रेलवे, पावर ट्रांसमिशन, टेलीकॉम, वेयरहाउसिंग, नेचुरल गैस पाइपलाइन शामिल है।

यानी कि प्रधानमंत्री मोदी के दूसरा कार्यकाल खत्म होते होते देश की लगभग सभी सरकारी संपत्तियों का निजीकरण हो जाएगा।

इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षी दलों के निशाने पर बनी हुई है। कई विपक्षी नेताओं ने भाजपा के इस फैसले की कड़ी आलोचना की है। वहीं कई नेताओं द्वारा देश के लिए चिंता जाहिर की है।

इस कड़ी में CPI नेता कन्हैया कुमार का नाम भी जुड़ गया है। कन्हैया कुमार ने भी भाजपा पर निशाना साधा है।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि ‘तय करो कि किस और हो, तुम बेचने वालों के साथ या बचाने वालों के साथ।’

@kanhaiyakumar

तय करो कि किस ओर हो तुम बेचने वालों के साथ या बचाने वालों के साथ #StopPrivatisation

ImageImage

 

 

 

 

 

गौरतलब है कि इस मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी मोदी सरकार पर हमलावर रहते हैं। उन्होंने कई बार आरोप लगाए हैं कि
प्रधानमंत्री मोदी देश को बेचने की तैयारी में है।

सत्ता में बैठी सरकार सिर्फ चंद पूंजीपतियों को फायदा पहुंचा रही है। जबकि देश के गरीब आम जनता महंगाई और बेरोजगारी के भार तले दब कर मर रही है।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...