ख़ुलासा :गोवा में बीजेपी सरकार ने 2 लाख वाला वेंटिलेटर 8.50 लाख में खरीदा

कोरोना महामारी में संकट का सामना कर रहे गोवा में पीएम केयर फंड से चार से पांच गुना ज्यादा रेट पर वेंटिलेटर खरीदने के आरोपों में स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे घिर गए हैं। गोवा सरकार के सहयोग से जनता के लिए फ्री डायलिसिस सेंटर चलाने वाले चिकित्सक डॉ. आर वेंकटेश ने पीआईएल दाखिल कर इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। उनका आरोप है कि राज्य में पीएम केयर फंड से दो लाख के वेंटिलेटर साढ़े आठ लाख रुपये कीमत में खरीदे गए। स्वास्थ्य मंत्री पर आरोप लगाते हुए डॉक्टर वेंकटेश ने एक वीडियो भी जारी किया है। खास बात है कि वेंटिलेटर खरीदने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने वित्त विभाग की भी मंजूरी नहीं ली गई, जबकि राज्य के मुख्यमंत्री ही वित्तमंत्री भी हैं। हालांकि स्वास्थ्य मंत्री ने वेंटिलेटर खरीदने में घोटाले के आरोपों को खारिज किया है।

विश्वजीत राणे 2019 में भी सुर्खियों में रहे थे, जब कांग्रेस ने उनका एक कथित ऑडियो जारी किया था, जिसमें वह मनोहर पर्रिकर के बेडरूम में राफेल की फाइलों की बात कर रहे थे। गोवा में लंबे समय से विश्वजीत राणे स्वास्थ्य मंत्री हैं। कांग्रेस सरकार में वर्ष 2007-2012 के बीच वह स्वास्थ्य मंत्री रहे और फिर 2017 में कांग्रेस से भाजपा में आने के बाद मनोहर पर्रिकर की सरकार में स्वास्थ्य मंत्री बने। इस वक्त प्रमोद सावंत सरकार में भी वह स्वास्थ्य मंत्री की जिम्मेदारी देख रहे हैं।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

रहें हर खबर से अपडेट जिसे कोई नहीं दिखाता
loading...