आर्यन खान मुद्दे पर बोली ममता बनर्जी- शाहरुख खान को टारगेट किया जा रहा

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

मुंबई: मुख्यमंत्री ममता बनर्जी दो दिनों के मुंबई दौरे पर हैं. वे बॉलीवुड के मेगास्टार शाहरुख खान से मुलाकात करने वाली हैं. ममता बनर्जी अपने मुंबई दौरे में समाज के हर वर्ग से जुड़ी हस्तियों से मुलाकात कर रही हैं. सूत्रों के मुताबिक इसी सिलसिले में उनकी शाहरुख खान से भी मुलाकात होनी है. शाहरुख खान आईपीएल की कोलकाता नाइट राइडर्स टीम के मालिक भी हैं. वे जब भी कोलकाता जाते हैं तो उनकी ममता बनर्जी से मुलाकात होती है. अब ममता बनर्जी मुंबई के दौरे पर हैं तो उनकी शाहरुख खान से मुलाकात स्वाभाविक है. मुंबई दौरे के दूसरे दिन ममता बनर्जी ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की और बीजेपी के खिलाफ एक मजबूत विकल्प तैयार करने का संकल्प जताया.

इससे पहले उन्होंने मुंबई के सिविल सोसाइटी के सदस्यों से संवाद साधा. यशवंत राव चव्हाण सेंटर में हुए इस कार्यक्रम में ममता बनर्जी ने आर्यन खान ड्रग्स मामले पर भी बात की. आर्यन खान मामले को लेकर ममता बनर्जी बीजेपी पर जम कर बरसीं. उन्होंने कहा कि शाहरुख खान को टारगेट किया जा रहा है. उन्होंने यहां तक कह दिया कि इस मामले में शाहरुख खान की राजनीतिक बलि ली गई है.

इस कार्यक्रम में मशहूर गीतकार जावेद अख्तर, अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा , महेश भट्ट, मेधा पाटकर, तुषार गांधी जैसी कला और सामाजिक सरोकारों से जुड़ी हस्तियां शामिल हुईं. इन हस्तियों से बातचीत करते हुए ममता बनर्जी ने बीजेपी को एक क्रूर और अलोकतांत्रिक पार्टी बताया. उन्होंने कहा, “महेशजी (महेश भट्ट) आपको टारगेट किया गया था. शाहरुख खान को भी परेशान किया गया. अगर हमें जीत हासिल करनी है तो लड़ना पड़ेगा, सामने आकर बोलना पड़ेगा. आप हमें सलाह दें, हमारा मार्गदर्शन करें.

आगे उन्होंने कहा, भारत को मैन पॉवर पसंद आता, मसल पावर नहीं. हम एक अलोकतांत्रिक पार्टी का सामना कर रहे हैं. अगर हम एक साथ आएं तो जरूत जीतेंगे. सभी क्षेत्रीय दल अगर साथ आएं तो बीजेपी को हराया जा सकता है.

बता दें कि पश्चिम बंगाल में हुए विधान सभा चुनाव में बीजेपी की हार के बाद ममता बनर्जी का ना सिर्फ राष्ट्रीय राजनीति में कद बढ़ा है, बल्कि उनकी राष्ट्रीय महात्वकांक्षा भी बढ़ी है. अब वे 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी के खिलाफ एक विकल्प तैयार करना चाह रही हैं और उस विकल्प का नेतृत्व करना चाह रही हैं. इस सिलसिले में वह सिर्फ महाराष्ट्र ही नहीं अन्य राज्यों का भी दौरा करने वाली हैं. लेकिन पेंच यह है कि वे कांग्रेस को अलग रखना चाह रही हैं. उन्होंने मुंबई में एक पत्रकार के सवाल के जवाब में कहा कि यूपीए है कहां? यूपीए अब रही नहीं. लेकिन यूपीए से जुड़ी हुई एनसीपी और शिवसेना जैसी क्षेत्रीय पार्टियों को ऐसा नहीं लगता कि कांग्रेस के बिना बीजेपी के खिलाफ मजबूत विकल्प संभव है.

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...