आतंकी तालिबान से मिल सकती है मोदी सरकार,मगर किसानों से नहीं, ये है गजब का राष्ट्रवाद : कांग्रेस नेता

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

अफगानिस्तान पर बीते दिनों तालिबान द्वारा किए गए कब्जे के बाद भारत ने पहली बार तालिबान से बातचीत की है,
बताया जा रहा है कि भारतीय राजदूत ने तालिबान के एजेंट के साथ कतर की राजधानी दोहा में मुलाकात की है।

राजनीतिक सूत्रों के मुताबिक, दोनों देशों के प्रतिनिधियों में यह बातचीत तालिबान की गुजारिश पर हुई है।

इस मामले में विदेश मंत्रालय ने जानकारी साझा करते हुए बताया है कि कतर में भारतीय राजदूत दीपक मित्तल ने मंगलवार को तालिबान के नेता शेर मोहम्मद अब्बास स्तानिकजई से मुलाकात की है।

विदेश मंत्रालय ने अधिकारिक जानकारी देते हुए बताया है कि भारत ने तालिबान के प्रतिनिधि से बातचीत के दौरान भारतीय नागरिकों की सुरक्षित और जल्द वापसी के साथ-साथ आतंकवाद से जुड़ी चिंताओं के मुद्दे पर भी बातचीत की है।

जिस पर तालिबान के प्रतिनिधि ने भारत को भरोसा दिलाया है कि उनकी हर चिंताओं का समाधान किया जाएगा।

इस मामले में कांग्रेस नेता श्रीनिवास बीवी ने मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला है है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि मोदी सरकार दोहा में आतंकवादी संगठन ‘तालिबान’ से पहले छिप-छिपकर और अब खुलेआम मिल सकती है,
लेकिन अडानी-अंबानी के सम्मान में 9 महीनों से आंदोलनरत भारत के किसानों की वाजिब मांगो के सामने घुटने नही टेक सकती, गजब का राष्ट्रवाद है

गौरतलब है कि बीते कई दिनों से भारत में तालिबान के नाम पर जमकर राजनीति की जा रही है।

हाल ही में अफगानिस्तान में घटे इस घटनाक्रम के बाद मोदी सरकार ने कतर में तालिबान के प्रतिनिधि के साथ मुलाकात की है।

दूसरी तरफ देश के किसान ने बीते साल से दिल्ली में आंदोलन कर रहे हैं। लेकिन प्रधानमंत्री मोदी उनके साथ बातचीत करने के लिए तैयार नहीं है, जबकि तालिबान के डर से भारत ने तालिबानी प्रतिनिधि के साथ मुलाकात करने पर हाँ भी भर दिया ।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...