बंगाल में नया बवाल! दैनिक भास्कर का दावा: भाजपा के 33 विधायक TMC में शामिल होना चाहते हैं

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के दौरान TMC प्रमुख ममता बनर्जी ने दावा किया था कि “खेला होबे लगता है कि ममता बनर्जी अपने इस दावे पर आगे बढ़ रही हैं।

प्रधानमंत्री मोदी, पूरी केंद्र सरकार, दर्जन भर मुख्यमंत्री,RSS की फौज को अकेले अपने दम पर परास्त करने के बाद दीदी बंगाल में बीजेपी को नेस्तनाबूद करने की तैयारी में हैं।

खबरें आ रही हैं कि बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के 33 विधायक TMC में जाने को इच्छुक हैं। वैसे चुनावी नतीजों के बाद बड़ी संख्या में बीजेपी नेताओं ने सार्वजनिक रूप से पुनः दीदी के साथ जाने की इच्छा जाहिर कर दी है।

अब 33 विधायकों के TMC जॉइन करने की चर्चा नेभारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व के कान खड़े कर दिए है।

अगर सब कुछ ठीकठाक रहा तो पश्चिम बंगाल में जल्द ही सियासी तूफान की खबरें सार्वजनिक हो जाएंगी।

दिलचस्प बात तो यह है कि स्वयं भाजपा के ही इन 33 विधायकों ने TMC में शामिल होकर दीदी के साथ काम करने की इच्छा जताई है, हालांकि अंतिम फैसला खुद ममता बनर्जी को करना है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, बीजेपी के 33 विधायक तो टीएमसी में जाने के लिए बेकरार हैं ही, भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय के बेटे शुभ्रांशु रॉय भी TMC में शामिल होने के लिए इच्छुक हैं।

बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के पुत्र शुभ्रांशु रॉय ने हाल ही में अपने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से केंद्र की मोदी सरकार को निशाने पर लिया था।

शुभ्रांशु ने कहा था कि जनता द्वारा चुनी हुई सरकार की आलोचना करने से बेहतर है कि आत्मनिरीक्षण करना चाहिए।

शुभ्रांशु ने ये पोस्ट ऐसे वक्त पर लिखा था जब बंगाल चुनाव हारने के बाद बीजेपी राजनीतिक हिंसा के बहाने ममता बनर्जी पर हमलावर थी। शुभ्रांशु स्वयं बंगाल की बीजपुर सीट से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार थे, लेकिन वह चुनाव जीतने में असफल रहें और टीएमसी उम्मीदवार से हार गए।

बताया जा रहा है कि बीजेपी विधायकों को शामिल करने में ममता बनर्जी कोई हड़बड़ी या जल्दबाजी नहीं दिखाना चाहती. वह इस मामले में कोई भी फैसला पार्टी नेताओं के साथ सलाह मशवरा करने के बाद ही लेंगी।

एक तो बात तो तय है कि लंबे अरसे के बाद भारतीय जनता पार्टी को शेर पर सवा शेर मिला है। ममता बनर्जी ने चुनाव के दौरान खुद को चंडी का अवतार बताया था, अब वो सचमुच रणचंडी की तरह शत्रु के सर्वनाश के पथ पर आगे बढ़ चुकी हैं।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...