भारत में पहली बार ऑनलाइन विरोध प्रदर्शन, टि्वटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर छा गया यह प्रदर्शन

मुंबई (सुमरा परवेज़ ) CAA के विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों का नेतृत्व करने वाली सफूरा ज़रगर काफी समय से पुलिस की हिरासत में है. उन्हें अप्रैल में पूछताछ के लिए ले जाया गया था इसी के बाद से ही वह पुलिस की गिरफ्त में है. बता दें कि सफूरा ज़रगर चार महीने की गर्भवती है और उन्हें सरकार ने सबसे भीड़-भाड़ वाली तिहाड़ जेल में रखा हुआ है. लेकिन अब उसके रिहाई की मांग तेज़ हो गयी है।

उसके रिहाई के लिए दिनांक 11/6/20 को रात 9:30 बजे से भारत में पहली बार ऑनलाइन विरोध प्रदर्शन हुआ। यह प्रदर्शन कुर्ला मुंबई की एक संस्था ने आयोजित किया था। जिसमें लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। यह प्रदर्शन सफूरा ज़रगार की रिहाई की मांग को लेकर था।यह अपने आप में विशेष प्रदर्शन था जिसमें एक साथ टि्वटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर लोगों ने #ReleaseSafooraZargar हैशटैग के साथ अपनी आवाज़ उठाई।

 

आपको बता दें सफूरा ज़रगार जामिया मिलिया की पीएचडी की छात्रा है जो #CAA के विरोध प्रदर्शन में शामिल थी। जिसकी वजह से उन्हें जेल जाना पड़ा।लोगों का आरोप है कि उनके ऊपर झूठे आरोप लगाकर उन्हें जेल में रखा गया है। ध्यान रहे कि सफूरा की जब गिरफ्तारी हुई तो वह गर्भवती थी।चार माह के गर्भ के साथ आज भी वो सलाखों के पीछे हैं। बार-बार अपील करने के बावजूद UAPA लगा होने के कारण उन्हें ज़मानत नहीं मिल रही है।

Image

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...