पेट्रोल 100, तेल 200- वाकई में देश का तेल निकाल दिया भारत को विश्वगुरु बनाने वाले ने

पेट्रोल डीजल और तेलों की बढ़ती कीमतों को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार आए दिन आलोचना झेल रही है। 7 जून को ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने लगातार दूसरे दिन रिटेल पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी की। कई राज्यों में पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर से अधिक कीमत पर बिक रहा है। राजस्थान के गंगानगर में पेट्रोल कई दिनों से 105 रुपए प्रति लीटर मिल रहा है तो वहीं मुंबई में पेट्रोल की कीमत 101.52 रुपए प्रति लीटर है। सरसों तेल की कीमत में भी रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है जिससे आम लोगों की परेशानी बढ़ गई है। बढ़ती मंहगाई को लेकर पूर्व आईएएस अधिकारी सूर्य प्रताप सिंह ने नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है।

सूर्य प्रताप सिंह ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से कई ट्वीट किए जिसमें उन्होंने महंगाई पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा, ‘पेट्रोल 100 रुपए लीटर। सरसों का तेल 200 रुपए लीटर। वाकई में ‘तेल’ निकाल दिया देश का।’

वहीं एक और ट्वीट में पूर्व आइएएस ने सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा कि एक नया कानून बनाकर बढ़ती मंहगाई पर सवाल करने वालों पर सरकार को दंडात्मक कारवाई करनी चाहिए।

उन्होंने लिखा, ‘आईपीसी में एक नई धारा जोड़ देनी चाहिए। पेट्रोल डीजल का दाम पूछना, लिखना, उस पर चर्चा करना या आलोचना करना देशद्रोह की श्रेणी में आएगा। सस्ते तेल की मांग करने वाले पर विभिन्न धाराओं के तहत दंडात्मक कार्यवाही होगी। देशहित में जनता 200 रुपए तक पेट्रोल खरीदे क्योंकि हमारे जवान सीमा पर है।’

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

रहें हर खबर से अपडेट जिसे कोई नहीं दिखाता
loading...