चीन में बड़ा हादसा, केमिकल कंपनी में जहरीली गैस की चपेट में आकर 11 लोगों की मौत, 100 बुरी तरह घायल

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

चीन के गुइझोऊ प्रांत में शनिवार को एक केमिकल कंपनी में जहरीली गैस की चपेट में आने से कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई. वहीं,100 अन्य लोग बुरी तरह घायल हो गए. मीडिया रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई है. स्थानीय अधिकारियों ने सरकारी मीडिया शिन्हुआ को बताया कि प्रांतीय राजधानी गुइयांग में पुलिस को प्रभात सूचना मिली कि एक केमिकल कंपनी के पास कुछ लोग बेहोश पड़े हैं.

प्रारंभिक जांच के आधार पर, अधिकारियों ने कहा कि एक वैन से मिथाइल फॉर्मेट लीक हो गया. ये हादसा तब हुआ, जब कंपनी के कर्मचारी वैन में से रसायन उतार रहे थे. वाहन में हुबेई प्रांत की लाइसेंस प्लेट लगी हुई थी.11 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 100 घायल लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है. अधिकारियों ने शिन्हुआ न्यूज एजेंसी को बताया कि इस मामले में आगे की जांच की जा रही है, ताकि लीक की अन्य वजहों को तलाशा जा सके.

पहले भी हो चुकी हैं गैस लीक की घटनाएं
इससे पहले, फरवरी में चीन के जिलिन प्रांत में एक केमिकल फाइबर प्लांट में जहरीली गैस के लीक होने के चलते पांच लोगों की मौत हो गई थी. जबकि आठ लोग बुरी तरह घायल हो गए थे. वहीं, गुइझोऊ में सबसे बड़ा हादसा 2007 में हुआ था, जिसमें 32 लोगों की मौत हो गई थी. ये हादसा प्रांत के कुनली कोयला खदान में हुआ था, जब गैस लीक होने की वजह से यहां मजदूर फंस गए और दम घुटने से उनकी मौत हो गई. ये खदान जिस इलाके में मौजूद थी, उसे चीन का सबसे गरीब इलाका माना जाता है.

देश में कोयला खदान सबसे असुरक्षित
चीन के कोयला खदानों को दुनिया में सबसे असुरक्षित माना जाता है. देश की बढ़ती ऊर्जा जरूरतों को देखते हुए खदान के मालिक सुरक्षा उपायों का पालन भी नहीं करते हैं. इस वजह से इस तरह के हादसे होते रहते हैं. इससे पहले, अप्रैल में चीन के पश्चिमोत्तर क्षेत्र में एक कोयला खदान में बाढ़ का पानी भरने से 21 खनिक फंस गए. चीन की खदानों में सुरक्षा के अभाव के कारण विस्फोट और गैस लीक की घटनाएं भी अकसर होती रहती हैं.

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...