पंजाब CM चन्नी का हुआ प्रदर्शनकारियों से सामना, रिपोर्टर से बोले- गाड़ी से उतर इसे दिखाओ; आगे हुआ कुछ ऐसा

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

प्रधानमंत्री मोदी का काफिला बीते 5 जनवरी को पंजाब के फ्लाईओवर पर 15 से 20 मिनट तक के लिए फंसा रहा। मामले को लेकर भाजपा सहित केंद्र सरकार के अन्य सहयोगी दलों, कलाकारों व पत्रकारों ने पंजाब सरकार पर हमला बोला, साथ ही पीएम की सुरक्षा में हुई चूक पर जिम्मेदार ठहराया। अब इस मामले पर खुद पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने इंटरव्यू दिया है। वह इंडिया टुडे के रिपोर्टर के साथ उस जगह पर भी गए, जहां प्रदर्शनकारी मौजूद थे। इतना ही नहीं, उन्होंने रिपोर्टर से नीचे उतरकर प्रदर्शनकारियों के बीच चलने के लिए भी कहा।

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने रिपोर्टर से बात करते हुए कैमरे को प्रदर्शनकारियों की ओर मोड़ने के लिए कहा। वीडियो में देखा जा सकता था कि प्रदर्शनकारी सड़क के किनारे अपना प्रदर्शन कर रहे थे। ऐसे में मुख्यमंत्री ने तंज कसते हुए बोला, “देखो ये प्रदर्शनकारी मुझे रोकना चाहते हैं। मैं क्या इन्हें मार दूं, मैं यह कह दूं कि मेरी सुरक्षा में चूक हुई है।

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने रिपोर्टर व कैमरामैन को अपने साथ गाड़ी से नीचे उतरने के लिए भी कहा। उन्होंने कहा, “मेरा इंटरव्यू कर रहे हो तो दिखाओ। मैं यह बताना चाहता हूं, आप दिखाने नहीं देते। मेरी गाड़ी रोकी गई है, 10 आदमी आ गए मेरी गाड़ी के पास, पुलिसवाले चारों ओर खड़े हुए हैं। उनकी तो गाड़ी रोकी भी नहीं गई थी।”

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने इस बारे में बात करते हुए आगे कहा, उनकी गाड़ी तो एक किलोमीटर पीछे थी, इसकी कोई योजना थोड़ी ना बनाई है।” इसके बाद मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी रिपोर्टर के साथ सड़क पर भी उतरे। उन्होंने इस बारे में आगे कहा, “प्रदर्शन करना इनका लोकतांत्रिक अधिकार है। चुनावी आचार संहिता लगने वाली है। ऐसे में यह चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा बातें मनवा ली जाएं।

बता दें कि वीडियो में लोग मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे भी लगाते नजर आए। वहीं मुख्यमंत्री ने प्रदर्शनकारियों से बात करते हुए आगे कहा, “जब मैंने आपको कल बुलाया है बैठक के लिए, फिर आप लोगों ने मेरा रास्ता क्यों रोका है? अगर मेरे ऊपर आप लोगों को विश्वास है तो आप लोग 11 बजे आ जाओ।

सीएम चन्नी ने रिपोर्टर से इस बारे में आगे कहा, “बस बात इतनी थी कि ऐसे ही लोग आगे आ गए, बैठ गए। वहां तक प्रधानमंत्री नहीं पहुंचे थे, वहां से एक किलोमीटर दूर थे। जैसे इन्होंने मुझे रोका, हो सकता है वह उनकी गाड़ी रोक लेते। इसमें सुरक्षा में चूक कहां है।” उनकी बात पर रिपोर्टर ने कहा, “प्रधानमंत्री, प्रधानमंत्री होता है।” वहीं रिपोर्टर का जवाब देते हुए सीएम चन्नी ने कहा, “मुख्यमंत्री भी तो कुछ होता है या छोटी चीज होता है बहुत। पीएम मेरे माननीय हैं।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...