तेज तूफान चक्रवात यास का असर, बंगाल-ओडिशा, बिहार, झारखंड समेत कई राज्यों में जारी रहेगी बारिश

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

 

पश्चिम बंगाल:भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की ओर से कई राज्‍यों में बारिश और तेज हवा चलने की चेतावनी जारी की गई है। इनमें बिहार झारखंड छत्‍तीसगढ़ ओडिशा पश्चिम बंगाल और उत्‍तर प्रदेश शामिल हैं। इसका असर दिखने भी लगा है।

बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान यास भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो चुका है। यह आज दोपहर ओडिशा के तट से टकराएगा। चक्रवाती तूफान यास के कारण ओडिशा और पश्चिम बंगाल के अधिकांश हिस्‍सों में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की ओर से कई राज्‍यों में बारिश होने के साथ तेज हवा चलने की चेतावनी जारी की गई है। इनमें बिहार, झारखंड, छत्‍तीसगढ़, उत्‍तर प्रदेश भी शामिल हैं। मौसम विभाग के मुताबिक इन राज्यों में आज बारिश जारी रहेगी।

मौसम विभाग के अनुसार यास तूफान का असर पश्चिम बंगाल पर पड़ेगा। आईएमडी डीजी मृत्युंजय महापात्र ने बताया कि पश्चिम बंगाल में आज अलग-अलग जगहों पर भारी बारिश होने की संभावना है। इसके साथ ही झारखंड में आज और कल भारी बारिश होगी। अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश होगी। मृत्युंजय महापात्र ने साथ ही बताया कि बिहार, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में आज और कल अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। इसके साथ ही असम और मेघालय में आज अलग-अलग जगहों पर भारी बारिश की संभावना है।

बिहार में भी बुधवार और गुरुवार को यास तूफान के कारण भारी बारिश होने की संभावना है। बिहार के नवादा, जमुई, गया, कटिहार, किशनगंज, अररिया, पूर्णिया, भागलपुर और औरंगाबाद जैसे जिलों में अगले 5 दिन तक बादल छाए रहने की आशंका जताई गई है। इसे देखते हुए कई जिलों के अफसरों को अलर्ट किया गया है। वहीं आईएमडी के अनुसार उत्‍तर प्रदेश के अधिकांश जिलों में भी 26 मई से 28 मई के बीच आंधी के साथ ही बारिश होने की आशंका जताई गई है। बुधवार से ही यूपी के कई जिलों में तेज हवाएं चलने लगेंगी. यास तूफान का असर वाराणसी, प्रयागराज, गोरखपुर और लखनऊ जैसे जिलों में देखने को मिलेगा। मौसम विभाग के मुताबिक यास तूफान का असर आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी और तमिलनाडु में भी देखने को मिलेगा।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...