आरएसएस को हमारी नासमझी,बेवकूफी,मूर्खता ने बढ़ावा दिया है :कृष्णन अय्यर

आरएसएस को हमारी नासमझी/बेवकूफी/मूर्खता ने बढ़ावा दिया है..राहुल गांधी का आरएसएस विरोध विचारधारा पर आधारित है..इसीलिए राहुल गांधी का व्यक्तित्व अडिग है..

 

– मुसलमान आरएसएस को इस्लाम विरोधी नजरिए से देखते है..आरएसएस का इस्लाम विरोध उसकी विचारधारा का बहुत छोटा सा हिस्सा है..जब मुसलमान आरएसएस का विरोध केवल इस्लामिक नजरिए से करता है तब आरएसएस को ताकत मिलती है..

 

– हिन्दू को सेक्युलर बनना है तो हिन्दू भी आरएसएस के विरोध को काफी हद तक इस्लाम से जोड़ देता है..हिन्दू को ये मालूम ही नही है कि विश्व का सबसे बड़ा हिन्दू विरोधी संगठन आरएसएस ही है..कैसी विडंबना है !!

 

– यानी आरएसएस के मूल्यांकन का 80% हिस्सा इस्लाम के नजरिए से होता है..इस बेवकूफी का फायदा आरएसएस ने खूब उठाया है..

 

– आरएसएस के भारत विरोधी चरित्र पर बहुत कम लोग बातें करते है..राहुल गांधी हरदम आरएसएस के भारत विरोधी चरित्र को उजागर करते है..इसीलिए आरएसएस राहुल गांधी पर सबसे ज्यादा हमलावर है..

 

– 2 लाइन सावरकर, 4 लाइन गोलवलकर, और गोडसे की गांधी हत्या तक हमारा ज्ञान सीमित है..आरएसएस की विचारधारा से 95% भारतीय परिचित नही है..इसीलिए आरएसएस सहानुभूति पैदा कर पाता है..

 

– आरएसएस का साहित्य बहुत ही सस्ते दामों पर उपलब्ध है..संघीयो ने खुद के पाप कर्मों को गर्व से खुद के साहित्य में लिखा है..और ये पाप ज्यादातर हिन्दू विरोधी है..

 

– आरएसएस की किताबें पढ़िए..इनका पाप, झूठ, गद्दारी, बेईमानी सबकुछ सबूत के साथ लिखा हुआ है..और प्लीज, आरएसएस विश्व के हिंदुओ के लिए कितना बड़ा खतरा है, इस बात पर जोर दीजिए..

 

– आरएसएस की सामाजिक, ऐतिहासिक, आर्थिक सोच को पढ़िए..आजादी के वक्त की गद्दारीयो का डिटेल्स जानिए..कैसे आतंकी सोच को बौद्धिक स्वरूप दिया वो समझिए..ये सारी बातें आरएसएस के साहित्य से ही पढ़ना जरूरी है..

 

जब आप पढ़ेंगे, तो हर 10 साल पर आरएसएस आपको केंचुली बदलता हुआ दिखेगा..देश के लिए आरएसएस कितना बड़ा खतरा है, इस बात पर विरोध आगे बढ़ाइए..

#krishnaniyer

 

Donate to JJP News
अगर आपको लगता है कि हम आप कि आवाज़ बन रहे हैं ,तो हमें अपना योगदान कर आप भी हमारी आवाज़ बनें |

Donate Now

loading...