संजय राउत ने शिवसेना और बीजेपी के रिश्ते की तुलना आमिर खान और किरण राव के रिश्ते जैसी है

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना के एक बार फिर साथ आने की अटकलों के बीच शिवसेना के नेता संजय राउत ने बड़ा बयान दिया है. एएनआई से उन्होंने अपने और बीजेपी के रिश्ते की तुलना आमिर और किरण राव से की है. दरअसल, पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बयान दिया था हमारे बीच दुश्मनी नहीं है. इस पर संजय राउत से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हम भारत-पाकिस्तान नहीं हैं. आमिर खान और किरण राव को देखिए, यह उस तरह का रिश्ता है. हमारे राजनीतिक रास्ते अलग हैं, लेकिन दोस्ती हमेशा बरकरार रहेगी.

बता दें कि महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ महाविकास अघाड़ी गठबंधन में खींचतान के बीच पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस के एक बयान से सियासी सरगर्मी तेज़ हो गई है… फिर से शिवसेना के साथ गठबंधन के सवाल पर फडणवीस ने कहा कि हमारे बीच कुछ मतभेद ज़रूर हैं, लेकिन हम दुश्मन नहीं हैं… फडणवीस ने आगे कहा कि राजनीति में कोई किंतु-परंतु नहीं होता…. भलिष्य में स्थिति के हिसाब से शिवसेना से गठबंधन पर सही फ़ैसला लिया जाएगा. फडणवीस के इस बयान के बाद एक बार फिर महाराष्ट्र की सियासत में नई खिचड़ी पकने की अटकल तेज़ हो गई हैं. इससे पहले शिवसेना के एक विधायक ने उद्धव ठाकरे को चिट्ठी लिखकर बीजेपी के साथ गठबंधन की वकालत की थी… प्रधानमंत्री मोदी से वन टू वन मुलाकात के बाद भी उद्धव ठाकरे ने रिश्तों में जमी बर्फ पिघलने के संकेत दिए थे… इस बीच महाराष्ट्र में आज से विधानसभा का मॉनसून सत्र शुरू हो रहा है, जिसके काफी हंगामेदार होने के आसार हैं.

महाराष्ट्र से सूत्रों के अनुसार खबर ये हैं कि शिवसेना और भाजपा साथ आ सकते हैं, जिसके तहत उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बने रहेंगे और देवेंद्र फडणवीसी को कैबिनेट मंत्री के तौर पर दिल्ली भेजा जा सकता है, हालांकि फडणवीस इससे इंकार कर चुके हैं. एक डील की भी चर्चा है जिसमें उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बने रहेंगे और भाजपा के दो उपमुख्यमंत्री होंगे. वहीं ndtv से bjp सूत्रों ने इस संभावना से इंकार करते हुए फडणवीस को मुख्यमंत्री बनाने की बात कही है, क्योंकि भाजपा की विधानसभा में सीटें शिवसेना के मुकाबले दोगुना है.

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...