पीएम किसान सम्मान योजना में हो रहा ज़बरदस्त घोटाला, करोड़ों रुपये का हुआ फ्रॉड

ई दिल्ली: पीएम किसान सम्मान निधि योजना में बड़ा घोटाला सामने आया है। तमिलनाडु में करोड़ों रुपये के फ्रॉड के केस में 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मामले की जांच सीबीसीआईडी द्वारा की जा रही है।अब तक सीबीसीआईडी ने तमिलनाडु के कई जिलों से 16 लोगों को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में सामने आया है लगभग 40 हजार लोग गलत जानकारी देकर प्रधानमंत्री किसान स्कीम से वार्षिक 6,000 रूपए का लाभ उठा रहे थे। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत तीन किस्तों में किसानों को सालाना यह मदद दी जाती है।

दरअसल यह फ्रॉड लगभग एक साल पहले सामने आया, जब कुड्डालोर कलेक्टर चंद्रशेखर सखामुराई‌ ने पिलाईयारमेडू गांव में लाभार्थियों की सूची में गैर-किसानों का भी नाम पाया‌। इसके बाद इस मामले में जांच के आदेश दिए गए।जांच में कृषि विभाग के ज्वाइंट डायरेक्टर्स ने अपने अधिकार क्षेत्र की जांच में ऐसे कई फ्र’ड होने की बात कही। इसके बाद सरकार ने सीबीसीआईडी को मामले की जांच सौंप दी।

राज्य में बीजेपी किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष राजा सुरेंद्र रेड्डी ने कहा कि गलत दस्तावेजों और फर्जी पतों के आधार पर लोग यह लाभ उठा रहे थे। एक अधिकारी ने कहा कि फर्जी लाभार्थियों के खाते में करीब 10 करोड़ रुपये की रकम ट्रांसफर हुई थी, जिसमें से 1.5 करोड़ रुपये वापस सरकार के खाते में भेज दिए गए हैं।

अधिकारी ने आगे बताया फ्रॉड मामले में गिरफ्तार किए गए लोगों में से दो सलेम जिले के थारामंगलम से हैं। इन्हीं लोगों ने गैर किसानों की अपने कंप्यूटर सेंटर के माध्यम से प्रधानमंत्री किसान स्कीम में अप्लाई करने में मदद की। अकेले सलेम जिले से लगभग 14,000 अपात्र लाभार्थी हैं। जबकि अन्य जिलों से लगभग 5000 अपात्र लाभार्थी हैं।

Donate to JJP News
अगर आपको लगता है कि हम आप कि आवाज़ बन रहे हैं ,तो हमें अपना योगदान कर आप भी हमारी आवाज़ बनें |

Donate Now

loading...