2013 में शुक्लाजी को तस्लीमा नसरीन का बूब्स पसंद था अब मुस्लिम के हाथ का खाना नापसंद होगया

नई दिल्ली:मध्य प्रदेश के शुक्ला जी आज ट्विटर पर छाए हुए हैं, उन्होंने जोमैटो से खाना मंगवाकर आर्डर कैंसिल कर दिया क्योंकी जो डिलीवरीबॉय उनका खाना लेकर आ रहा था वो मुस्लिम था, नॉनवेज आर्डर करने वाले शुक्लाजी को शायद अपना धर्मभ्र्ष्ट होने का खतरा महसूस हुआ होगा, ट्विटर पर ही काफी लोग उन्हें लताड़ रहे हैं यहाँ तक की खुद जोमैटो ने उन्हें लताड़ लगा दी है लेकिन शुक्लाजी की पुराने ट्वीट खंगानले के बाद असल कहानी शुरू होती है.
पहले विस्तार से मामला तो पढ़ लो
मध्यप्रदेश के जबलपुर के रहने वाले अमित शुक्ला ने कई ट्वीट किए और बातचीत का स्क्रीनशॉट शेयर किया. उन्होंने बातचीत शेयर करते हुए कहा कि वो अपने वकील से इस मसले पर बात करेंगे.
मध्यप्रदेश के जबलपुर के रहने वाले अमित शुक्ला ने कई ट्वीट किए और बातचीत का स्क्रीनशॉट शेयर किया. उन्होंने बातचीत शेयर करते हुए कहा कि वो अपने वकील से इस मसले पर बात करेंगे.फूड एप जोमेटो (Zomato) में एक कस्टमर ने खाना इसलिए कैंसिल कर दिया क्योंकि डिलिवरी बॉय मुस्लिम था.
उसने किसी हिंदू डिलिवरी बॉय को भेजने को कहा और बाद में उसने ऑर्डर कैंसिल कर दिया. जिसके बाद जोमेटो ने ऐसा रिप्लाई दिया जिसको सोशल मीडिया पर लोग खूब पसंद कर रहे हैं.
अमित शुक्ला ने ट्वीट करते हुए लिखा- ‘मैंने जोमेटो का ऑर्डर कैंसिल कर दिया है. उन्होंने मेरा खाना मुस्लिम राइडर को दिया साथ ही कहा कि वो राइडर चैंज नहीं कर सकते और पैसा रिफंड भी नहीं करेंगे.’
शुक्लाजी को तस्लीमा नसरीन के बूब्स पसंद हैं
ऐसा नहीं है की शुक्लाजी को सिर्फ शौरवामा ही पसंद है उन्हें बांग्लादेश से निर्वासित भारत में रहने वाली तस्लीमा नसरीन के बू’ब्स भी पसंद है ऐसा हम नहीं कह रहे है बल्कि खुद अमित शुक्ला बोल रहे हैं, जब उनका मोदी सरकार के आने से पहले का ट्विटर खंगाला गया तो पाया गया की मोदी सरकार आने से पहले शुक्लाजी ऑनलाइन महिलाओं के बू’ब्स देखा करते थे और उनकी वाल पर जाकर उनकी जमकर तारीफ किया करते थे. जैसा की तस्लीमा नसरीन की तारीफ करते हुए लिखते हैं की ” वेल, मैं कहूंगा की तुम्हारे बूब्स ग्रेट हैं, आशा है तुम मेरा कमेंट लाइक करोगी“.
इसे कहते हैं आत्मविश्वास, खुलेआम बू’ब्स की तारीफ और उस पर तुर्रा यह की मुझे आशा है की तुम मेरा कमेंट लाइक करोगी। शायद अमित को पता नहीं होगा की तस्लीमा नसरीन भी मुस्लिम हैं.
Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...