कड़वी सच्चाई ,जब आप किसी व्यक्ति को भगवान बना देते हो तो बहस के सारे रास्ते बंद हो जाते हैं

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

आज एक कडवी सच्चाई बयान करना चाहता हूं। शायद 20-25 फ्रेंड आज कम हो जाय। लेकिन सच है इसलिए लिखना जरूरी है।

ज्यादातर मजदूर, गरीब, बेरोजगार sc st obc वर्ग से है। वे लगभग सर्वहारा की स्थिति में पहुंच गये हैं। लेकिन भारत के पूंजीवादी वर्ग और rss ने मिलकर इनका ब्रेनवोश कर दिया है। उनको धर्म, जाति और प्रदेश में बांट दिया है। आपस में नफरत फैला दी गई है।

दूसरी बात है कि संघ ने जानबूझकर आंबेडकर को भगवान का दर्जा देने के लिए sc st obc को प्रेरित किया है। अब ये sc st obc बाबासाहब को भगवान की तरह पूजते है। साथ साथ उनके द्वारा बनाये गये संविधान को भी पूजनीय ग्रंथ का दर्जा दे दिया है।

हिन्दुओं के मन जो श्रद्धा गीता और वेद के लिए है, मुसलमान के मन में जो श्रद्धा कुरान के लिए है और क्रिश्चियन के मन में जो श्रद्धा बाइबल के लिए है ऐसा ही श्रद्धा का भाव दलित ओबीसी और आदिवासियों के मन में संविधान के लिए उत्पन्न किया गया है।

परिस्थिति ये उत्पन्न हुई है कि अगर कोई व्यक्ति बाबासाहब और संविधान के विरुद्ध कोई सच्चाई बयान करना चाहे तो वह असंभव सा हो गया है। बाबासाहब उनके लिए राम है। अल्लाह है। गोड है। जब आप किसी व्यक्ति को भगवान बना देते हो फिर बहस के सारे रास्ते बंद हो जाते हैं। सारा मानसिक विकास, प्रगति रुक जाती है।

वास्तव में आज की स्थिति में मजदूर, गरीब, बेरोजगार, ओबीसी, आदिवासियों की समस्या का कारण पूंजीवाद है। और पूंजीवाद को कहां से संरक्षण मिलता है? हमारे कानून और हमारा संविधान ही पूंजीवाद का रक्षक है। यही संविधान में ऐसे ऐसे प्रावधान बनाये गये हैं कि पूंजीपतियों का कोई बाल भी बांका नहीं कर पाता है।

यह संविधान के रक्षक कौन है? sc st obc यही लोग हैं संविधान की रक्षा के लिए चट्टान की तरह खड़े है। मतलब जिस संविधान के कारण आपके दुश्मनों को संरक्षण मिलता है उसी संविधान की रक्षा में आप जान कुर्बान करने के लिए तैयार है।

बात समझने में कठिन है। पचाने में मुश्किल है। जरा शांति से ठंडे दिमाग से सोचेंगे तो समझ में आयेगी।

ये लिखने के पीछे मेरा कोई स्वार्थ नहीं है। अध्ययन करते-करते, सोचते समझते, देश के हालात का निरीक्षण करते-करते मुझे ये सत्य समझ में आया तो लिख दिया।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...