एक बकरी बेचने वाली का बेटा बना जज,असगर अली ने किया यूपी का नाम रोशन

नई दिल्ली:  पीसीएस-जे 2018 परीक्षा के परिणाम जारी हो चुका है ,जिसमें 610 छात्र छात्राओं का चयन हुआ है,इनमें एक नाम असगर अली का है जिसने गरीबी में अपनी मेहनत और लग्न से सबसे चीजों को पीछे छोड़कर जज बनकर नाम रौशन कर दिया है।

लखीमपुर खीरी जिले के बेहद गरीब परिवार में जन्में असगर अली पीसीएसजे में कामयाब होकर पूरे देश के छात्रों के सामने मिसाल कायम किया है, असगर अली के परिवार की आर्थिक हालत अच्छी नहीं है। उनकी मां बकरे-बकरियों को बेचकर असगर की पढ़ाई की फीस भरती थीं। उनकी इस मेहनत का फल आज असगर अली ने जज के रुप में मिला है। वहीं असगर अली के जज बनने पर उनके परिवार वाले बेहद खुश हैं।

27 वर्षीय असगर अली जिले के मूसेपुर गांव के रहने वाले हैं। असगर के घर की आर्थिक हालत अच्छी नहीं है। उनकी मां बकरे-बकरियों को बेचकर असगर की पढ़ाई की फीस भरती थीं।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...