22 साल में ये 5 युवा रचा इतिहास, जिन्होंने सबसे कम उम्र में क्लीयर की UPSC, IAS ऑफिसर बन कर रहे हे देश की सेवा

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

नई दिल्ली: भारत में युवाओं की जनसंख्या दुनिया में सबसे ज्यादा है और भारत के युवा हर एक फील्ड में सबसे आगे हैं। भारत के युवा हर क्षेत्र में अपना टैलेंट दिखा रहे हैं। भारत में कई ऐसे युवा है जो यूपीएससी की परीक्षा को बहुत ही कम उम्र में पास करके देश की सेवा कर रहे हैं। टीना डाबी 2015 की यूपीएससी की टॉपर रही है और टीना डाबी ने मात्र 22 वर्ष की उम्र में यूपीएससी की परीक्षा पास की है। टीना डाबी ने अपने पहले ही अटेंड में यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली। टीना डाबी सभी भारतीय युवाओं के लिए एक मोटिवेशन है। 2020 की यूपीएससी परीक्षा में टीना डाबी की बहन जी या डाबी ने भी बहुत ही कम उम्र में यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली है। औरंगाबाद के रहने वाले अम्रुतेश ने 2011 में यूपीएससी की परीक्षा दी और पहले ही प्रयास में सफलता प्राप्त कर ली। अम्रुतेश औरंगाबादकर को 2011 की यूपीएससी परीक्षा में दसवीं प्राप्त हुई। रोमन सैनी सबसे यंग आईएएस ऑफीसर माने जाते हैं। 2013 की यूपीएससी परीक्षा में रोमन सैनी को पहले ही प्रयास में सफलता प्राप्त हुई और 2013 की यूपीएससी परीक्षा में उन्हें 18 वीं रैंक प्राप्त हुई। बाद में रोमन सैनी ने आईएस पद को त्याग कर। यूपीएससी की कोचिंग कर रहे बच्चों को पढ़ाने का निर्णय कर लिया और आज वे यूपीएससी की तैयारी छात्रों को पढ़ाते हैं। अनन्या सिंह ने 2019 में यूपीएससी की परीक्षा दी और पहले ही प्रयास में सफलता प्राप्त कर ली। 2019 की यूपीएससी परीक्षा में अनन्या सिंह को 51 रैंक प्राप्त हुई है।अनन्या सिंह उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले से बिलॉन्ग करती हैं। उत्तर प्रदेश से प्रारंभिक स्कूली पढ़ाई पूरी करने के बाद दिल्ली आ गई और यहां से उन्होंने लेडी श्रीराम कॉलेज से अर्थशास्त्र ऑनर्स में ग्रेजुएशन की पढ़ाई की इसके बाद उन्होंने यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी। स्वाति मीणा राजस्थान के अजमेर जनपद से बिलॉन्ग करती है। 2007 में स्वाति मीणा ने यूपीएससी की परीक्षा दी और इन्हे 260 रैंक हासिल हुई। स्वाति मीणा के मन में आईएएस ऑफिसर बनने का विचार आठवीं कक्षा में आया लेकिन स्वाति मीणा की मां इन्हें डॉक्टर बनाना चाहती थी लेकिन इनका विचार आठवीं कक्षा में आकर बदल गया।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...