योगी राज में सच्चाई को उजागर करने वाले पत्रकारों पर नहीं रुक रहे हमले ,टोल प्लाजा कर्मियों ने पत्रकारों की टीम को दौड़ा कर पीटा

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में पत्रकार पर हमले की घटनाओं में लगातार इजाफा हो रहा है। सच्चाई को उजागर करने के लिए पत्रकारों को हरसंभव आगे बढ़ने से रोका जा रहा है, हद तो यह है कि उन पर हमले भी हो रहे हैं।

ताजा मामला सोनभद्र जनपद से जुड़ा हुआ है, जहां सोनभद्र के सदर कोतवाली क्षेत्र के लोढ़ी टोल प्लाजा पर अवैध परमिट के जरिए परिवहन करने वाले वाहनों की खबर कवरेज करने गए पत्रकारों की टीम पर लोढ़ी टोल प्लाजा कर्मियों ने हमला बोल दिया। इस हमले से आक्रोशित तथा किसी प्रकार वहां से जान बचाकर भागे मीडियाकर्मियों ने पुलिस को सूचना देने के बाद राबर्ट्सगंज कोतवाली प्रांगण में धरने पर बैठ गए। लोढ़ी टोल प्लाजा पर पत्रकारों को जान से मारने की धमकी एवं मारपीट की घटना से इनमें आक्रोश व्याप्त है।

रंगेश सिंह न्यूज 18 व अशोक चौबे इंडिया वॉच के सोनभद्र संवाददाता हैं, जो 14 अक्टूबर 2020 को दोपहर में टोल प्लाजा लोढ़ी से अवैध परमिट की गाड़ियों के परिवहन की सूचना मिलने पर टीम के साथ खबर कवरेज करने गए थे, तभी वहां पर असलहे से लैस एक बोलेरो व स्कॉर्पियो से एक दर्जन लोग पहुंचे। हमलावरों में धर्मेंद्र तिवारी निवासी ग्राम बहुआर निवासी व लक्की श्रीवास्तव निवासी चुर्क जो लाठी डंडों से लैस थे, उन्होंने पत्रकारों पर हमला कर दियां जब तक पत्रकारों की टीम कुछ समझ पाती की सभी ने मिलकर पत्रकारों पर हमला बोल दिया, तथा मां, बहन की गाली देते हुए दौड़ाकर जान से मारने की धमकी देने लगे। मौके से सभी मीडियाकर्मी किसी तरह से जान बचाकर भागे। किसी प्रकार से 112 नंबर पर तथा पुलिस अधीक्षक सोनभद्र को फोन करके मामले की स्थिति से अवगत कराया गया।

Donate to JJP News
अगर आपको लगता है कि हम आप कि आवाज़ बन रहे हैं ,तो हमें अपना योगदान कर आप भी हमारी आवाज़ बनें |

Donate Now

loading...