हाथरस कांड में कांग्रेस के नेता पर दर्ज किया गया राजद्रोह का मामल

हाथरस: उत्तर प्रदेश के हाथरस मामले में पुलिस ने कांग्रेस के दलित नेता श्योराज जीवन के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज किया है। जीवन को हाथरस के बगड़ी गांव में स्थानीय लोगों को उकसाने की कोशिश करते हुए कैमरे में कैद किया गया था। जिसके बाद उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।
सोशल मीडिया पर उनके स्टिंग ऑपरेशन का एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें वह स्वीकार कर रहे हैं कि कांग्रेस ने अपनी राजनीति को आगे बढ़ाने के लिए हाथरस की घटना का इस्तेमाल किया।
उन्होंने यह भी स्वीकार किया है कि वह हाथरस में पीड़ित परिवार और पूरे वाल्मीकि समाज को उकसाने के लिए भड़काऊ भाषा का इस्तेमाल कर रहे थे।
जीवन केंद्रीय कैबिनेट में पूर्व राज्य मंत्री और अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के राष्ट्रीय सचिव है। बुधवार को उनके ऊपर राजद्रोह के आरोपों के तहत मामला दर्ज किया गया और उनसे पूछताछ के लिए पेश होने को कहा गया है।

वायरल वीडियो में जीवन ने कई बड़े नेताओं का नाम लिया है। वीडियो में उन्हें यह कहते देखा गया है कि हाथरस में बड़े पैमाने पर जाति आधारित दंगे भड़काने की तैयारी की गई है तथा उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि ज़मीनी कार्रवाई इतनी मज़बूत थी कि हिंसा को कोई रोक नहीं सकता था।
साथ ही वीडियो में वह यह भी कह रहे हैं कि राहुल गांधी हाथरस आएंगे जब चारों ओर से गोलियां चलने लगेंगी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि दोनों पक्षों में से 2 लोगों को मरना चाहिए। जिसमें से एक नेता और एक आम आदमी को मरना चाहिए। तब भयंकर झड़प होगी इसे कोई रोक नहीं पायेगा । जिस तरह की स्थिति पनप रही है क्योंकि वाल्मीकि समाज एक लड़ने वाला समुदाय है कई लोग मर जाएंगे।

जबकि जीवन ने सभी आरोपों का खंडन किया है। उन्होंने कहा कि 19 सितंबर को जब पीड़िता जवाहरलाल नेहरू अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज में भर्ती थी तब वह पीड़िता के परिवार से मिले थे।वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने एक ब्यान में कहा कि ऐसे कुछ ऐसे तत्व हैं जो अपने भड़काऊ बयानों के ज़रिए माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।

Donate to JJP News
अगर आपको लगता है कि हम आप कि आवाज़ बन रहे हैं ,तो हमें अपना योगदान कर आप भी हमारी आवाज़ बनें |

Donate Now

loading...