भारतीय जनता पार्टी के दो नेताओ ने बंगाल के ”तृणमूल” में जाने की इच्छा जाहिर की,

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

भारतीय जनता पार्टीके एक और नेता काशेम अली ने तृणमूल में जाने की इच्छा जाहिर की है। विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं मिलने पर तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुईं सोनाली गुहा ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कालीघाट स्थित घर जाकर उनसे मुलाकात कीं ।

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। अब बीजेपी के एक और नेता ने तृणमूल में जाने की इच्छा जाहिर की है। उनका आरोप है कि अल्पसंख्यक मोर्चा में पद पर रहने के बावजूद वह काम नहीं कर पा रहे थे जिस कारण उन्होंने भाजपा से नाता तोड़ने का निर्णय लिया है। वहीं भाजपा के अल्पसंख्यक मोर्चा के अध्यक्ष अली हुसैन ने बताया कि अल्पसंख्यक मोर्चा के उपाध्यक्ष काशेम अली को पद से हटा दिया गया है। इसके अलावा अन्य जिम्मेदारियों से भी उन्हें हटा दिया गया है। उन्होंने गत शुक्रवार को इस्तीफा दिया था जिसे स्वीकार कर लिया गया है। वहीं काशेम अली ने आरोप लगाया कि उन्हें पार्टी में काम करने नहीं दिया जा रहा था जिस कारण प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष के पास उन्होंने इस्तीफा भेज दिया। उनके अलावा सुवेंदु अधिकारी के करीबी कबिरुल इस्लाम ने भी यही निर्णय लिया है। दोनों ने ही तृणमूल में शामिल होने की इच्छा जाहिर की है।

वर्ष 2017 में काशेम अली भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे

यहां उल्लेखनीय है कि वर्ष 2017 में काशेम अली भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे। इसके बाद उन्हें अल्पसंख्यक मोर्चा का उपाध्यक्ष भी बनाया गया था। इसके बावजूद वह क्यों तृणमूल में लौटना चाहते हैं, इस पर काशेम अली ने कहा, ‘भाजपा में रहकर अल्पसंख्यकों के लिए कोई काम करना संभव नहीं था। इस कारण ये निर्णय लिया।’

सोनाली गुहा भी जाना चाहती हैं

बताते चलें कि शनिवार को विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं मिलने पर तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुईं सोनाली गुहा ने मुख्यमंत्री ममता जी के कालीघाट स्थित घर जाकर उनसे मुलाकात कीं । सोनाली ने खुद इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि दीदी ने उन्हें अपने घर बुलाया था। वह वहां गईं और उनसे बातचीत की। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले सोनाली ने इंटरनेट मीडिया पर कहा था कि भारतीय जनता पार्टी में जाकर उन्होंने बहुत बड़ी गलती की है। दीदी इसके लिए उन्हें माफ कर दें। जिस तरह मछली पानी के बिना नहीं रह सकती, उसी तरह वह भी दीदी के बिना नहीं रह पाएंगी। सोनाली ने मुख्यमंत्री से मिलने की भी इच्छा जाहिर की थीं।

सोनाली ने बताया कि मुख्यमंत्री के भाई के श्राद्ध कार्यक्रम में वे ममता के घर गई थीं। वहां उनके अलावा तृणमूल के वरिष्ठ नेता सुब्रत बक्सी मौजूद थे। दीदी ने उनसे अच्छी तरह से बातचीत कीं। यह पूछे जाने पर कि वह तृणमूल में कब वापसी कर रही हैं तो इस पर सोनाली ने कहा कि देखते हैं, आगे क्या होता है। सूत्रों का कहना है कि ममता बनर्जी ने आगामी पांच जून को पार्टी की कोर कमेटी की बैठक बुलाई है। उसी में सोनाली की तृणमूल में वापसी पर फैसला लिया जा सकता है। सोनाली सतगछिया से विधायक रही हैं और बंगाल विधानसभा में डिप्टी स्पीकर का पदभार भी उन्होंने संभाला है।

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...