हिंदू संगठन के दबाव में महिला पड़ोसी ने मुस्लिम शख्स पर लगाया धर्मांतर का आरोप, जज के सामने कबूला झूठ

किसी भी वीडियो को डाउनलोड करें बस एक क्लिक में 👇
http://solyptube.com/download

मुजफ्फरनगर में एक सिख महिला ने दो मुस्लिम भाइयों पर जबरन धर्मांतरण कराने का आरोप लगाया. उसने पुलिस को बताया था कि उसके पड़ोसी शख्स ने उसे धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर किया और उससे शादी की, उसके पांच लाख रुपये भी ले लिए.

महिला की शिकायत पर दोनों के खिलाफ बलात्कार, धोखाधड़ी और धर्मांतरण विरोधी कानून के तहत मामला दर्ज हुआ. आरोपी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया. लेकिन दो दिन बाद ही महिला ने जज के सामने अपने बयान में कहा कि उसने कुछ हिंदू संगठनों के दबाव में यह शिकायत दर्ज कराई थी. उसने अपना बयान वापस ले लिया.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर कहती है कि मजिस्ट्रेट के सामने जो बयान दर्ज हुआ उसमें महिला ने अपने आरोपों से इनकार कर दिया.

महिला ने पहले दावा किया था कि उसने उस शख्स से शादी की है. वह शख्स इस वक्त जेल में है जबकि उसका भाई फरार है. अब महिला का कहना है कि उसने आरोपी से शादी नहीं की थी और कुछ हिंदू संगठनों के दबाव में आकर उसने एफआईआर दर्ज कराई थी. पुलिस का कहना है कि महिला अब अपने साथ हुए किसी तरह के उत्पीड़न से इनकार कर रही है. अब पुलिस आरोपी को रिहा कराने के लिए कोर्ट जाने के बारे में सोच रही है.

अगर कोई किसी के प्रति अपराध कर रहा है तो निश्चित कार्रवाई होनी चाहिए, लेकिन फर्जी अपराध गढ़ना भी एक किस्म का अपराध है. आपको याद हो तो जब लव जिहाद के मुद्दे को तूल दिया गया तो ज्यादातर मामले बोगस पाए गए थे. झूठ बोलकर किसी को फंसाना, किसी को उल्लू बनाना, ये सब नई बात नहीं है. लेकिन अगर हिंदुओं के खिलाफ लव जिहाद और धर्मांतरण जैसे संगठित रैकेट चल रहे हैं तो आजतक ये अदालतों में स्टे​बलिश क्यों नहीं हुआ? इस संगठित रैकेट को साबित करके अपराधियों को सजा कौन देगा?

आपके शासन में अगर जनता को खतरा है तो ​इसके लिए जिम्मेदार कौन है? आपके शासन में अंतरराष्ट्रीय संगठित रैकेट चल रहे हैं और आप सिर्फ मीडिया में हल्ला मचा रहे हैं? कार्रवाई कौन करेगा? नेहरू?

कभी अपने आप से ये सवाल पूछिए कि एक हिंदूवादी पार्टी के शासन में हिंदुओं से ये क्यों कहा जा रहा है कि हिंदुओं पर खतरा है? जो हिंदू सदियों तक मुस्लिमों और अंग्रेजों के शासन में नहीं मिटे, बीजेपी के आते ही उन्हें विलुप्तप्राय बताने के पीछे की वजह क्या है? जिस पार्टी और नेता के बारे में भक्त कहते हैं कि उनका कोई विकल्प ही नहीं है, उसके रहते हिंदुओं पर इतना खतरा कैसे आ गया है? कानून, पुलिस, अदालत, संविधान सब कहां है? सच में खतरा आ गया है या छद्म खतरा पैदा किया जा रहा है?

Donate to JJP News
जेजेपी न्यूज़ को आपकी ज़रूरत है ,हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं,इसे जारी रखने के लिए जितना हो सके सहयोग करें.

Donate Now

अब हमारी ख़बरें पढ़ें यहाँ भी
loading...